Share
अपने बयान पर कायम हैं नवाज शरीफ, कहा- सच बोलता रहूंगा

अपने बयान पर कायम हैं नवाज शरीफ, कहा- सच बोलता रहूंगा

रावलपिंडी। पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने 2008 के मुंबई आतंकवादी हमले को लेकर अपने हालिया बयान का आज बचाव किया और कहा कि वह सच बोलेंगे , भले ही इसका कुछ भी परिणाम हो। शरीफ ने एक साक्षात्कार में पहली बार सार्वजनिक रूप से यह स्वीकार किया कि पाकिस्तान में आतंकवादी संगठन सक्रिय हैं। उन्होंने राज्येत्तर तत्वों को सीमा पार जाने और मुंबई में लोगों को “मारने” की अनुमति देने की नीति पर भी सवाल उठाया। शरीफ की इस स्वीकारोक्ति से पाकिस्तान में विवाद शुरू हो गया और बयान को खारिज करने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा समिति ने एक उच्च स्तरीय बैठक बुलायी। डॉन समाचार पत्र ने खबर दी है कि विवाद पर आज शरीफ की प्रतिक्रिया उनकी पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग – नवाज के रुख के विपरीत है।

पार्टी अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने कल कहा था कि पार्टी ‘‘रिपोर्ट में किए गए सभी दावों को खारिज करती है, चाहे वे प्रत्यक्ष हों या अप्रत्यक्ष हों।’’ 68 वर्षीय शरीफ ने इस्लामाबाद में जवाबदेही अदालत के बाहर संवाददाताओं से कहा, “मैंने साक्षात्कार में क्या कहा जो गलत था ?” अदालत में वह भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं। शरीफ ने अपनी टिप्पणी को लेकर पैदा हुए विवाद के बीच कहा कि जो सच है, वह वही बोलेंगे। ।शरीफ ने कहा कि उन्होंने जो कहा है, उसकी पुष्टि पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ, पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक और पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार महमूद दुर्रानी पहले ही की थी। उन्होंने अफसोस जताया कि जो लोग सवाल पूछते हैं, मीडिया में उन्हें धोखेबाज़ करार दिया जाता है।

मुंबई हमलों पर पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की टिप्पणी पर चर्चा के लिए पाकिस्तानी सेना उच्चस्तरीय बैठक कर रही है। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने टि्वटर पर कहा कि प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी को उच्चाधिकार प्राप्त राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (एनएससी) की बैठक बुलाने का सुझाव दिया गया।

वहीं पाकिस्तान के सर्वोच्च नागरिक सैन्यसंगठन ने आज अपदस्थ पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के उस बयान को गलत और भ्रामक बताकर खारिज कर दिया है जिसमें उन्होंने 2008 के मुंबई हमले के लिये जिम्मेदार आतंकी संगठनों को लेकर वहां की सरकारों के रवैये की आलोचना की थी। प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी की अध्यक्षता में हुई राष्ट्रीय सुरक्षा समिति ( एनएससी ) की एक बैठक में 2008 के मुंबई हमलों को लेकर शरीफ के हालिया बयान के बाद बनी स्थिति पर चर्चा हुई।

Leave a Comment