Share
आइटीबीपी जवान निकला तेंदुए की खालों की तस्करी का सरगना

आइटीबीपी जवान निकला तेंदुए की खालों की तस्करी का सरगना

चंपावत : एसओजी व बनबसा पुलिस द्वारा गुलदार की पांच खाल के साथ पकड़े गए आइटीबीपी जवान ने पुलिस को जमकर छकाया। जवान पुलिस को छकाकर भागने में कामयाब हुआ तो पुलिस के हाथ पांव फूल गए, हालांकि पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। अब तक पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है कि जवान ही खाल की तस्करी का सरगना है और वन्यप्राणियों का शिकार कर उनकी खालों को बेचने का काम करता है।

पुलिस अधीक्षक धीरेंद्र गुंज्याल ने बताया कि पिथौरागढ़ से गुलदार की खाल तस्करी की सूचना मिलने पर रविवार को बनबसा (चंपावत) से खटीमा (ऊधमसिंहनगर) की ओर आ रही अल्टो कार संख्या को रोककर जांच की गई तो उसमें गुलदार की पांच खाल मिली। कार में सवार तीन लोगों में से एक आरोपित राजेश कुमार निवासी टनकपुर मौके से फरार हो गया, जबकि दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार युवकों की शिनाख्त कमल सिंह 30 पुत्र मान सिंह निवासी ग्राम/पोस्ट कटियानी झूलाघाट पिथौरागढ़ व पुष्कर सिंह 68 पुत्र उमेद सिंह निवासी आमबाग टनकपुर के रूप में हुई। इस बीच कमल ने पूछताछ के दौरान ही मौके से पुलिस गिरफ्त से भागने का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने कुछ दूरी दौड़कर उसे पकड़ लिया। आरोपित कमल सिंह आइटीबीपी पिथौरागढ़ में तैनात है।

इस संबंध में पुलिस ने आइटीबीपी अधिकारियों से बातचीत कर वस्तुस्थिति बताई है। पुलिस के अनुसार आरोपितों से बरामद गुलदार की खालें ताजी हैं, जिससे अंदेशा लगाया जा रहा है कि करीब एक साल के अंदर गुलदार को मारकर इनकी खाल उतारी गई है। इसमें एक खाल में तीन गोलियों के निशान भी हैं।

Leave a Comment