Share
आतंकियों के परिजनों से मिल बोलीं महबूबा- ऐसी घटनाएं बंद न हुई तो परिणाम होगें खतरनाक

आतंकियों के परिजनों से मिल बोलीं महबूबा- ऐसी घटनाएं बंद न हुई तो परिणाम होगें खतरनाक

श्रीनगर। एक संदिग्ध आतंकवादी की बहन से मिलने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने रविवार को चेताया कि अगर आतंकवादियों के परिजनों का उत्पीड़न नहीं रुका तो इसके ‘‘खतरनाक परिणाम’’ होंगे। इस महिला की जम्मू कश्मीर पुलिस के कर्मियों ने कथित रूप से पिटाई की थी।
महबूबा ने दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले में रूबीना नाम की महिला से उसके आवास पर मुलाकात की। मुफ्ती ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ (मैंने) पुलवामा के पातीपुरा का दौरा किया जहां रूबीना (जिसका भाई आतंकवादी है), उनके पति तथा भाई की पुलिस हिरासत में निर्दयतापूर्वक पिटाई की गई थी। गंभीर प्रकृति की चोटों के कारण वह बिस्तर से उठ नहीं पा रही हैं।’’
पीडीपी की प्रमुख ने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक से इस घटना में शामिल पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की। मुफ्ती ने कहा, ‘‘(मैंने) जम्मू कश्मीर के राज्यपाल से कार्रवाई करने और भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने का अनुरोध किया।

Leave a Comment