Share
दून के इन सात शिक्षक- शिक्षिकाओं को राष्ट्रीय प्रोत्साहन पुरस्कार

दून के इन सात शिक्षक- शिक्षिकाओं को राष्ट्रीय प्रोत्साहन पुरस्कार

देहरादून: केन्द्रीय विद्यालय संगठन की ओर से शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए इस साल राष्ट्रीय प्रोत्साहन पुरस्कार में दून से सात शिक्षक- शिक्षिकाओं के नाम हैं।अगले माह दिल्ली में विभिन्न श्रेणियों के ये शिक्षक पुरस्कार प्राप्त करेंगे।
दिसम्बर के दूसरे सप्ताह में पुरस्कार के लिए देशभर से शिक्षक-शिक्षिकाएं दिल्ली पहुंचेंगे। जहां पर विशेष समारोह का आयोजन किया जाएगा। इसमें केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री की ओर से सभी को सम्मनित किया जाएगा। इस साल इन पुरस्कारों को प्राथमिक स्तर पर उत्कृष्ट शिक्षण, छात्रों के सर्वांगीण विकास में योगदान के लिय दिया जाएगा।

देशभर के सभी 25 रीजन से 60 शिक्षक-शिक्षिकाओं को राष्ट्रीय प्रोत्साहन पुरस्कार-2017 के लिए नामित किया गया है। इसमें सात शिक्षक देहरादून के हैं। केन्द्रीय विद्यालय अपर कैंप से चार तथा केन्द्रीय विद्यालय ओनएनजीसी, ओएलएफ और मसूरी से एक-एक शिक्षक का नाम इस पुरस्कार के लिए घोषित हुआ है।

केन्द्रीय विद्यालय ओनएनजीसी की बात करें तो शिक्षिका आफरीन रब्बानी पिछले 20 सालों से विद्यालय में उत्कृष्ट कार्य कर रहीं हैं। यही वजह रही कि गत 2015 में इन्हें केंद्रीय विद्यालय संगठन संभागीय प्रोत्साहन पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। उन्हें शिक्षिका बनने की प्रेरणा अपनी शिक्षिका माता से मिली और समाज सेवा करने की भावना पिताजी से प्राप्त हुई।आफरीन ने बताया कि बेहतर शैक्षिक वातावरण, छात्र हित, मार्गदर्शन के लिए निरंतर प्रयासरत रहती हैं।

ये होंगे सम्मानित
केन्द्रीय विद्यालय अपर कैंप-रीता इंद्रजीत सिंह प्रिंसिपल, विजय राम पाण्डे, शैलेन्द्र कुमार त्रिपाठी, प्रेमा थापा, केन्द्रीय विद्यालय ओएनजीसी- अफरीन रब्बानी, केन्द्रीय विद्यालय ओएलएफ- देवी प्रसाद थपलियाल, केन्द्रीय विद्यालय मसूरी- संगीत खुराना। यह इन सबके लिए बड़े गर्व की बात है।

Leave a Comment