Share
नरेन्द्र सिंह नेगी जी के स्वास्थ्य धीरे-धीरे सुधार हो रहा है

नरेन्द्र सिंह नेगी जी के स्वास्थ्य धीरे-धीरे सुधार हो रहा है

देहरादून, हार्टअटैक के बाद राजधानी देहरादून के मैक्स अस्पताल के सीसीयू भर्ती देवभूमि के प्रख्यात लोकगायक नरेन्द्र सिंह नेगी जी के स्वास्थ्य धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। उनके स्वास्थ्य का हालचाल जानने आम जनता के साथ ही राजनीतिक हस्तियां अस्पताल पहंुच रही हैं। आध्यात्मिक गुरू और सूबे के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने ईश्वर से प्रार्थना करते हुए गढ़रत्न नरेन्द्र सिंह नेगी जी के जल्द स्वस्थ होने की कामना की। पर्यटन मंत्री महाराज ने कहा कि आज वह संगीतकार नरेन्द्र सिंह नेगी जी को देखने के लिए गये। वह स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं। और आप सब लोगों की शुभकामना से और प्रार्थना से उनका स्वास्थ्य बहुत अच्छा है। 80 प्रतिशत उनको लाभ हो चुका है। इस समय उनका ब्लड प्रेशर नार्मल है। और धीरे-धीरे उनका स्वास्थ्य ठीक है। ये आप सब की प्रार्थना का परिणाम है। हमारे स्वर सम्राट नरेन्द्र सिंह नेगी जी, धीरे-धीरे उनको उपचार में फायदा पहुंच रहा है। और इसके बाद में सुशीला बलूनी जे के यहां भी गया। वह भी स्वास्थ्य लाभ कर रही हैं। आप सभी की प्रार्थना ने यह दिखाया कि हमारी जो दोनों विभूति हैं उत्तराखंड की उनको स्वास्थ्य लाभ हो रहा है। सतपाल महाराज ने अपने वक्तव्य में कहा कि सदियों में ऐसे लोग पैदा होते हैं जो अपनी लोकसंस्कृति और सभ्यता के लिए पूरा जीवन समर्पित कर देते हैं।

उत्‍तराखण्‍ड के चप्‍पे चप्‍पे के अलावा देश विदेश से नरेन्‍द्र सिंह नेगी जी के लिए ईश्‍वर से प्रार्थना की गयी, बद्रीनाथ मंदिर क्षेत्र तथा गढवाल के मंदिरो के हक हकूकधारी पं0 हरिकिशन किमोठी ने बद्रीनाथ जी से श्री नेगी जी को शीघ्र स्‍वस्‍थ करने के लिए विशेष प्रार्थना की- सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में प्रसिद्व श्री हरिकिशन किमोठी ने आजीवन ब्रहमचार्य का व्रत लेकर पूजा पाठ तथा समाजसेवा का व्रत लिया है-

उत्तराखंड के लाखों लोगों की आवाज लोकगायक नरेन्द्र सिंह नेगी की सेहत अब पहले से बेहतर है। उनके बेटे कविलास नेगी ने गुरूवार शाम पांच बजे मैक्स अस्पताल के बाहर आकर मीडिया के सामने अपने पिता के स्वास्थ्य की जानकारी खुद प्रशंसकों को दी। मैक्स में उनकी एंजियोप्लास्टी की गई है और अगले 72 घंटे उन्हें विशेष निगरानी में रखा जाएगा। बेटे कविलास ने कहा कि पिताजी के स्वास्थ्य में गुरुवार को काफी सुधार आया है। हालांकि उन्हें अभी वेंटीलेटर में ही रखा गया है । उनकी हालत अब पहले से बेहतर है। वह लोगों को पहचान पा रहे हैं और हाथ व सिर हिलाकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि चिकित्सक उनकी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। अभी दो-तीन दिन और उन्हें चिकित्सकों की निगरानी में रखा जाएगा। सोशल मीडिया में पिता के बारे में चल रही भ्रामक खबरों पर उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में गलत तथ्य आने से प्रशंसकों में बैचेनी थी।

गौरतलब है कि नेगी जी का जन्म 12 अगस्त, 1949 को पौड़ी जिले में हुआ था। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत पौड़ी से की थी और अबतक वे दुनियाभर के कई बड़े देशों में गा चुके हैं। नरेंद्र सिंह नेगी के गीतों को सुनकर देवभूमि की पीढ़िया बड़ी हुई हैं। उनके गीतों से उत्तराखंड की लोकसंस्कृति चलती है। यह कहना कहीं से भी अतिस्योक्ति नहीं होगा कि नरेंद्र सिंह नेगी का मतलब पहाड़ की आवाज है। उनकी आवाज पहाड़ के दिल की आवाज है। उनके गाये गीत पहाड़ियों को जीने का मार्ग दिखाते हैं और आज शायद यही कारण है कि उनकी सलामती के लिए लाखों हाथ दुआओं में उठ खड़े हुए हैं। कहा जाता है कि अगर आप उत्तराखंड और यहां के लोग, समाज, जीवनशैली, संस्कृति, राजनीति, आदि के बारे में जानना चाहते हों तो बस एक बार नरेंद्र सिंह नेगी के गीत सुन लें।

देहरादून 30 जून, 2017
मुख्य सचिव श्री एस.रामास्वामी विख्यात लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी और राज्य आंदोलनकारी सुशीला बलूनी की कुशल क्षेम जानने मैक्स हॉस्पिटल गए। श्री नरेंद्र सिंह नेगी का इलाज कर रहे कार्डियोलाॅजी यूनिट के डॉक्टरों से उन्होंने श्री नेगी जी के स्वास्थ्य के बारे में पूरी जानकारी ली। यूनिट के हेड डॉ.पुनीश सडाना ने बताया कि श्री नेगी जी के स्वास्थ्य में काफी सुधार है। यही स्थिति बनी रहती है तो कल वेंटिलेटर हटा दिया जाएगा। मुख्य सचिव अस्पताल में भर्ती सुशीला बलूनी को भी देखने गए। उनकी कुशल क्षेम पूछी और शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की। श्रीमती सुशीला बलूनी का इलाज कर रहे एमआईसीयू के हेड डॉ.शांतनु से बात की। डॉ.शांतनु ने बताया कि उनके स्वास्थ्य में काफी सुधार हुआ है। मुख्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए हैं कि श्री नेगी जी और श्रीमती बलूनी के इलाज का खर्चा राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। उनका अच्छा से अच्छा इलाज होना चाहिए। इस दौरान मैक्स अस्पताल के मेडिकल सुपरिन्टेन्डेन्ट डॉ.राहुल प्रसाद भी उपस्थित थे।

Leave a Comment