Share
भूस्खलन होने से बदरीनाथ हाईवे आठ घंटे बाधित रहा

भूस्खलन होने से बदरीनाथ हाईवे आठ घंटे बाधित रहा

चमोली जिले में चिकित्सकों का टोटा हमेशा बना रहता है। बदरीनाथ धाम, हेमकुंड यात्रा सहित यहां के पर्यटन स्थलों का दीदार करने के लिए प्रतिवर्ष लाखों लोग चमोली आते हैं, लेकिन उनके स्वास्थ्य की सुरक्षा यहां भगवान भरोसे है। चमोली जिले से चार चिकित्सकों के स्थानांतरण देहरादून समेत मैदानी क्षेत्रों में कर दिए गए। इन्हें तुरंत रिलीव भी कर दिया गया। जबकि जिले में 12 चिकित्सक आने थे। उनमें से सिर्फ पांच चिकित्सक ही आए। खास बात तो यह है कि स्थानांतरित चिकित्सकों में सर्जन, फिजीशियन व नेत्र रोग विशेषज्ञ की जिले में आवश्यकता थी। इन विशेषज्ञ चिकित्सकों ने अभी तक चमोली में तैनाती नहीं दी है।

कर्णप्रयाग:
प्रखंड पोखरी के अंतर्गत लंबित रानौ-क्वींठी-सिमखोली मोटर मार्ग पर कार्य न होने से नाराज प्रधान क्वींठी सूरज सिंह रावत ने 5 जुलाई को जिला मुख्यालय गोपेश्वर में आमरण अनशन प्रारंभ करने संबधी पत्र प्रेषित किया है। प्रेषित ज्ञापन में कहा है कि लोनिवि पोखरी की लापरवाही के चलते वर्ष 2009-2010 में स्वीकृत 11 किमी मोटर मार्ग पर कार्य आधा-अधूरा होने से ग्रामीणों को आज भी 6 किमी पैदल आवाजाही करनी पड़ रही है, जबकि उक्त समस्या से बीते 18 जून को उनकी ओर से विभाग व प्रशासन को अवगत कराया गया था, लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई, जिससे उन्हें आमरण अनशन पर बैठना पड़ रहा है।

सेवा में,
माननीय जिला अधिकारी
गोपेस्वर, चमोली गढ़वाल , उत्तराखंड

विषय: माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंदर मोदी जी की महत्वकांशी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना को अधिकारी, ठेकेदार और चंद रसूक वाले लोग मिलकर लगा रहे हैं पुलिंदा – ग्रामीणों व क्षेत्रवासिओं को किया जा रहा है दरकिनार
संदर्भ : मिंगगधहेरा – डांगटोली – करचोडा – मरोड़ा मोटर मार्ग, विकास खंड नारायण बगड़ जिला चमोली
महोदय,

हम सभी ग्रामवासी (निलाड़ी, आगरा-चामिनी, दानगढ़, सनेड) एवं क्षेत्रवासी आपके सज्ञान में लाना चाहते हैं की उपरोक्त सदर्भित मोटर मार्ग कर निर्माण हम सभी को बंचित रख कर किया जा रहा है। जिसमे सिर्फ चंद रसूकदार लोग, ठेकेदार तथा आपके अंतर्गत आनेवाले अधिकारीयों के निजी स्वार्थ के लिए कार्य हो रहा है। क्षेत्र के विभिन्न महत्वपूर्ण स्थलों को निर्माण कार्य से दरकिनार किया जा रहा है , जैसे की :
१. दस से भी अधिक गाओं का एक मात्र हाई स्कूल
२. प्राइमरी स्कूल निलाड़ी
३. प्राइमरी स्कूल सनेड़
४. पंचायत घर
५. एनम सेंटर
६. हॉस्पिटल
७. धार्मिक स्थल खांकरदेव शिवालय

आप से हम सभी अनुरोध करते है की उपरोक्त सदर्भित प्रधानमत्री ग्रामीण सड़क से सभी महत्वपूर्ण स्थल जोड़े जाएँ तथा ग्रामीणों एवं क्षेत्रवासियों की आवस्यकता के अनुसार निर्माण कार्य किये जाएँ.
संलग्न हैं :
१. ग्रामप्रधान निलाड़ी के प्रधान द्वारा हस्ताक्षरित पत्र उनकी मोहर के साथ
२. ग्रामप्रधान सनेड़ के प्रधान द्वारा हस्ताक्षरित पत्र उनकी मोहर के साथ
३. सभी ग्रामपंचयत, क्षेत्रपंचायत, जिलापंचायत के सदस्यों द्वारा हस्ताक्षरित पत्र
४. क्षेत्र के सभी महत्वपूर्ण निवासियों के हस्ताक्षरित पत्र

चमोली 04 जुलाई 2017
जन शिकायतों को गम्भीरता से लेते निर्धारित समयान्तर्गत समाधान करना सुनिश्चत करें। जिन शिकायतों का विभागीय स्तर पर समाधान हो सकता है उनका तत्काल निस्तारण करें तथा कृत कार्यवाही से संबधित शिकायतकर्ता को भी अवगत करना सुनिश्चत करें। यह निर्देश जिलाधिकारी आशीष जोशी ने तहसील आदिबद्री के राजकीय इण्टर काॅलेज आदिबद्री में तहसील दिवस की अध्यक्षता करते हुए विभागीय अधिकारियों को दिये। फरियादियों द्वारा तहसील दिवस में शिक्षा, स्वास्थ्य, विद्युत, पेयजल, पेंशन आदि से जुड़ी लगभग 50 समस्यायें दर्ज करायी गयी। जिसमें से अधिकांश शिकायतों का जिलाधिकारी द्वारा मौके पर निस्तारण किया गया तथा अवशेष शिकायतों के समाधान के लिए संबधित विभागीय अधिकारियों को समयबद्व तरीके से निस्तारण करने के निर्देश दिये गये। तहसील दिवस में जिलाधिकारी ने दर्ज शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए किसी प्रकार की लापरवाही न बरतने के सख्त निर्देश अधिकारियों को दिये।

तहसील दिवस के अवसर पर ग्राम पंचायत खेत के प्रधान ने प्राथमिक विद्यालय भवन जीर्ण-शीर्ण स्थिति में होने की शिकायत दर्ज कराते हुए विद्यालय भवन पुर्ननिर्माण की बात कही। वही जीआईसी कांसवा में शिक्षकों की तैनाती न होने की शिकायत दर्ज की गयी। जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को विद्यालय भवन के पुर्ननिर्माण हेतु राज्य योजना में प्रस्तावित करने तथा जीआईसी कांसवा में एक सप्ताह के भीतर शिक्षकों की तैनाती सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। चेता देवी, रामेश्वरी देवी, भवान सिंह आदि ने वृद्धावस्था पेंशन न मिलने की शिकायत दर्ज की। जिस पर सुनवायी करते हुए जिलाधिकारी ने समाज कल्याण अधिकारी को एक सप्ताह के भीतर पेंशन भुगतान के निर्देश दिये। समाज कल्याण अधिकारी ने बताया कि कुछ लाभार्थियों के आधार नम्बर व बैक खाता उपलब्ध न होने के कारण पेंशन का भुगतान नही हो पाया है। ग्राम खाल के सरपंच पूरन सिंह रावत ने वन पंचायत खाल के अधीन गुन गदरी तोक में एनएच द्वारा चैढीकरण के दौरान मलवा गिराने से पेड़ों को नुकसान होने की शिकायत दर्ज की। जिलाधिकारी ने एनएच एवं एसडीओ वन को संयुक्त रूप से शीघ्र जाॅच कराने के निर्देश दिये। नगली गांव में विद्युत पोल एवं झूलते विद्युत तारों से होने वाले खतरे की शिकायत पर विद्युत विभाग के अधिकारी को 15 दिनों के भीतर विद्युत लाइन को ठीक कराने के निर्देश दिये।

पीएमजीएसवाई की खेती-बेडी-सिराणा मोटर मार्ग निर्माण में हो रही देरी की शिकायत पर पीएमजीएसवाई के अधिकारी द्वारा बताया कि संबधित मोटर मार्ग की डीपीआर भारत सरकार को भेजी गयी है तथा वन भूमि हस्तान्तर का मामला आरओ स्तर पर है। मेरा गांव मेरी सड़क योजना के तहत निर्मित सिमलधार से आली मोटर मार्ग से प्रभावित काश्तकारों की भूमि का मुआवजा न मिलने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने आरडब्लूडी के अधिकारी को शीघ्र मुआवजे के सर्वे कराने के निर्देश दिये। आदिबद्री -मैरोली मोटर मार्ग को 4 किमी आगे बढाने हेतु सर्वे के निर्देश लोनिवि गौचर को दिये। आदिबद्री में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र न होने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने भूमि चयनित कर सीएससी खोलने हेतु प्रस्ताव देेने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिये।

ढमकर ग्रामसभा के मोहन सिंह रावत की गांव में मनरेगा भुगतान में हो रही धांधली की शिकायत पर खण्ड विकास अधिकारी को संबधित गांव में जाकर जाॅच करने तथा स्पष्ट रिपोर्ट शनिवार तक उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। आली-मजाडी पेयजल योजना के पुर्नगठन हेतु धनराशि उपलब्ध न होने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने एनआरटीडब्लूपी के अन्तर्गत पेयजल योजना का निर्माण कराने के निर्देश दिये। राइका आदिब्रदी में झूलते विद्युत तारों, सफाई कर्मी न होने तथा शुद्ध पेयजल उपलब्ध न होने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने विद्यालय प्रबन्धन समिति के माध्यम से सफाई कर्मी रखने व शुद्ध पेयजल हेतु आरओ लगाने के निर्देश मुख्य शिक्षा अधिकारी को दिये। जुलागढ गांव के विवेक खत्री का विकलांग प्रमाण पत्र बनाने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिये।

तहसील दिवस के अवसर पर ब्लाक प्रमुख गैरसैंण सुमति बिष्ट, डीएफओ नीतू लक्ष्मी एम, मुख्य विकास अधिकारी विनोद गोस्वामी, उप जिलाधिकारी स्मृता परमार, डीडीओ आनंद सिंह, पुलिस उपाधीक्षक, मुख्य शिक्षा अधिकारी एलएम चमोला, समाज कल्याण अधिकारी सुरेन्द्र लाल सहित स्वास्थ्य, विद्युत, सिंचाई, कृषि, लोनिवि, एनएच, पीएमजीएसवाई, उद्यान आदि विभागों के जिलास्तरीय एवं तहसील स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

####
गोपेश्वर, शोली ब्‍लॉक के एक गांव का ग्राम प्रधान भाभी को भगाकर ले गया। महिला के पति ने राजस्व पटवारी चौकी में तहरीर दी है। राजस्व पटवारी गौंणा ने कहा कि मामले में जांच कर कार्रवाई की जा रही है।

महिला के पति ने राजस्व पटवारी चौकी में तहरीर दी। उसमें आरोप लगाया कि एक जुलाई को ग्राम प्रधान उनके घर से उनकी पत्नी को भगाकर ले गया। पति का कहना है कि वह विकलांग है तथा उनके तीन बच्चे हैं। उन्होंने बताया कि उसकी पत्‍नी घर से जेवरात व नकदी भी अपने साथ ले गई।
###
रविवार रात हुई बारिश और मलबा आने से उत्तरकाशी में यमुनोत्री छह, रुद्रप्रयाग में केदारनाथ चार और चमोली में बदरीनाथ राजमार्ग करीब तेरह घंटे बंद रहा। इससे यात्रियों को फजीहत झेलनी पड़ी। इसके अलावा तीनों जनपदों में कई संपर्क मार्ग अभी भी बंद चल रहे हैं।

उत्तरकाशी: जनपद में रविवार की रात करीब दस बजे बारिश शुरू हुई। जिला मुख्यालय तथा मोरी ब्लॉक मुख्यालय में 55 एमएम बारिश दर्ज की गई। बारिश से यमुनोत्री हाईवे तुनाल्का, स्यालना, ओजरी व असनोल गाड के पास बंद रहा। तुनाल्का, स्यालना व ओजरी में हाईवे करीब चार घंटे बंद रहा। जबकि हनुमान चट्टी के निकट असनोल गाड में हाईवे छह घंटे बाद सुचारु हुआ। हाईवे बंद रहने के दौरान यात्रियों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जबकि मोरी-संकरी जखोल मोटर मार्ग पर जगह-जगह मलबा आने के कारण मार्ग बड़े वाहनों के लिए बंद है। वहीं जिले में करीब 15 गांवों को जोड़ने वाले छह सम्पर्क मार्ग भी बंद है।

रुद्रप्रयाग: सोमवार तड़के छह बजे केदारनाथ हाईवे पर गौरीकुंड के पास मुनकटियां में पहाड़ी से मलबा व बोल्डर आ गए। इससे यात्रा बंद हो गई। लगभग दस बजे मार्ग से मलबा हटाया जा सका। इसके बाद ही आवाजाही शुरू हो सकी। इस बीच केदारनाथ जाने वाले यात्रियों को लगभग चार घंटे इंतजार करना पड़ा। वहीं सुबह कालीमठ मोटर मार्ग, रैतोली, तूना-बौठा भी मलबा आने से बंद चल रहे थे, लेकिन दोपहर तक इन सभी मार्गाें को खोल दिया गया है। इसके अलावा खलियाड़-पुजारगांव, छेनागाड़ मोटर मार्ग व तूखंर मोटर मार्ग मलबा आने से बंद चल रहे हैं। सोमवार को 605 यात्रियों ने भोले बाबा के दर्शन किए।

गोपेश्वर: बदरीनाथ हाईवे रविवार रात बारिश के बाद मलबा आने से हाईवे रड़ांग बैंड व लामबगड़ में अवरुद्ध हो गया था। हाईवे बंद होने के बाद दोनों ओर दोपहर तक यात्री वाहनों की लंबी कतार लगी रही। बारिश के दौरान बार बार हाईवे बंद होने के कारण यात्रियों की काफी फजीहत हो रही है।
सोमवार प्रात: नौ बजे बारिश बंद होने के बाद सीमा सड़क संगठन ने रड़ांग बैंड में राजमार्ग से मलबा हटाने का कार्य शुरू किया। इधर, लामबगड़ में नेशनल हाईवे विभाग ने मशीनें लगाकर मलबा हटाने का कार्य शुरू किया। एनएच ने दोपहर 11:20 बजे लामबगड़ में हाईवे से मलबा हटाया गया। राष्ट्रीय राजमार्ग बंद होने के कारण लामबगड़ के अलावा रड़ांग बैंड में भी यात्री वाहनों की लंबी कतार लगी रही। अपराह्न 2:30 बजे राजमार्ग खुलने के बाद यात्री वाहनों की आवाजाही चालू की गई। दूसरी ओर मैठाणा भूस्खलन जोन में भी हाईवे के ऊपर की ओर से बार बार मलबा आ रहा है। यहां पर दीवार भी क्षतिग्रस्त हुई है। इस स्थान पर दीवार मरम्मत व हाईवे के ऊपर के मलबे को हटाने का कार्य हो रहा है। निर्माण एजेंसी के बीच हाईवे पर मलबा डालने के बाद सोमवार को मैठाणा में आधे घंटे तक जाम लगा रहा। स्थानीय निवासी नरेंद्र ¨सह तोपाल ने बताया कि मैठाणा भूस्खलन जोन में निर्माण एजेंसी के हाईवे के ऊपर का मलबा सड़क पर फेंका जा रहा है।
उत्तरकाशी में बंद संपर्क मार्ग
-सिल्यारा-चापड़ा मोटर मार्ग
-धरासू जोगथ मोटर मार्ग
-¨चवा मोंडा मोटर मार्ग
-बडेथी कंवा मोटर मार्ग
-गंगोरी चिवां-नाल्ड मोटर मार्ग
-गंगनानी भंगेली मोटर मार्ग

 

Leave a Comment