Share
शशि थरूर का दावा- 2019 में BJP जीती तो भारत जरूर बनेगा हिंदू राष्ट्र

शशि थरूर का दावा- 2019 में BJP जीती तो भारत जरूर बनेगा हिंदू राष्ट्र

प्रेस विज्ञप्ति। नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने कहा है कि अगर बीजेपी 2019 लोकसभा चुनाव जीतने में कामयाब रहती है तो उसे संविधान में संशोधन कर भारत को ‘हिंदू राष्ट्र’ घोषित करने से कोई नहीं रोक सकता। वे रजत शर्मा के शो ‘आप की अदालत’ में सवालों का जवाब दे रहे थे। इस शो का प्रसारण शनिवार रात 10 बजे इंडिया टीवी पर होगा।

तिरुवनंतपुरम के सांसद ने कहा, ‘अभी 21 राज्य बीजेपी के पास हैं, और इन 21 राज्यों की वजह से इन्हें राज्यसभा में 4 से 5 साल के अन्दर बहुमत मिल जाएगा। लेकिन अगर हम 2019 में लोकसभा में उन्हें रोक सके तो फिर उन्हें ‘हिन्दू राष्ट्र’ को यथार्थ करने का कौई मौका नहीं मिलेगा।’
‘जिस दिन उनके पास राज्यसभा, लोकसभा और अधिकांश राज्यों में बहुमत हासिल होगा, जहां राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति प्रधानमंत्री तीनों आरएसएस के अंग हैं, तो कौन रोकने वाले हैं उनको ? आरएसएस का जो स्वप्न है, ‘हिन्दू राष्ट्र’ बनाना, उनको कौन रोकेगा ?’
थरूर ने कहा, ‘आइडिया ऑफ इंडिया को चैलेन्ज करने वाले आज सत्ता में हैं। ये लोग आज भी कह रहे हैं कि हिन्दू राष्ट्र चाहिए। उनके जो आइडोलॉजिकल हीरो थे, सावरकर, गोलवलकर, दीनदयाल उपाध्याय, वो सब संविधान के खिलाफ थे। उन्होंने लिखा भी हैं कि संविधान में बदलाव होना चाहिए, हिन्दू राष्ट्र बनना चाहिए। तो मैंने कहा जब तक ये लोग अपना इरादा बदलेंगे नहीं, तब तक ये बड़ा रिस्क है कि पाकिस्तान का एक हिन्दुत्व वर्जन हिन्दुस्तान में भी आ जाएगा। That would be a Hindu Pakistan, और मैं कहता हूं कि ज्यादा से ज्यादा हिंदू ये नहीं चाहते। हम सब एक साथ रहना चाहते हैं।’
कांग्रेस नेता ने कहा, ‘मैंने ये कहा मोदी साहब (पीएम नरेंद्र मोदी) तो कहते हैं कि संविधान उनके लिए holy book है, और साथ ही वह कहते हैं कि वह पंडित उपाध्याय के भक्त हैं। ये दोनों ideas एक साथ नहीं हो सकते। उपाध्याय संविधान के खिलाफ थे। जब तक आप लोग संविधान के खिलाफ बोलते रहेंगे तो लोगों के मन में शक रहेगा।’
रजत शर्मा द्वारा यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बीजेपी को 2019 में सत्ता में आने से रोकने में कामयाब रहेंगे, थरूर ने कहा- ”यह केवल अकेले राहुल गांधी का सवाल नहीं है। विपक्ष में ऐसे कई नेता हैं। देश में 130 करोड़ लोगों में 80 फीसदी हिंदू हैं और अधिकांश लोग समावेशी हिंदुत्व के पक्ष में हैं।”
लिंचिंग की घटनाओं पर शशि थरूर ने कहा, ‘पिछले 70 सालों में गायों से जुड़ी लिंचिंग की जितनी भी घटनाएं रही हैं, उनमें से 97 प्रतिशत भाजपा के पिछले साढ़े चार सालों के शासनकाल के दौरान हुई हैं। यह सरकार का आधिकारिक आंकड़ा है। हमारे प्रधानमंत्री ने राजस्थान के अलवर में हुई लिंचिंग की घटना पर अपनी चुप्पी अभी तक नहीं तोड़ी है। अलवर की घटना के बाद मैंने ट्वीट किया था कि ऐसा लगता है जैसे कुछ जगहों पर गाय होना मुसलमान होने से ज्यादा सुरक्षित है।’
जब रजत शर्मा ने याद दिलाया कि कांग्रेस ने ‘हिंदू पाकिस्तान’ वाले उनके बयान को खारिज कर दिया है, और साथ ही पार्टी के प्रवक्ता ने नेताओं को ऐसी टिप्पणियां करने के बारे में चेताया है, तो थरूर ने दावा किया कि केरल कांग्रेस का समूचा नेतृत्व इस मसले पर उनके साथ खड़ा है। उन्होंने कहा, ‘पूर्व मुख्यमंत्री, केरल प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष, विधायी दल के नेता समेत मेरे राज्य के सभी कांग्रेसी नेताओं ने मेरे इस बयान का समर्थन किया।’
थरूर ने अपनी पत्नी सुनंदा पुष्कर की रहस्यमय मौत से जुड़े सवालों के जवाब देने से यह कहते हुए इनकार कर दिया कि यह मामला अभी न्यायालय में विचाराधीन है। हालांकि जब उनसे पूछा गया कि बीते साढ़े चार सालों में अपनी पत्नी की मौत के बाद की चुनौतियों का सामना उन्होंने कैसे किया, तो वह भावुक नजर आए। उन्होंने कहा, ‘यह बेहद कठिन था। सत्य मेरी शक्ति है। मैंने फैसला किया कि मैं लोगों को क्यों खुद को डिफाइन करने का मौका दूं। मैं जो हूं वही रहूंगा और खुद को जितना मजबूत बना सकता हूं उतना बनाऊंगा।’
उन्होंने सुनंदा पुष्कर के खिलाफ ‘क्रूरता’ के दिल्ली पुलिस के आरोपों को ‘पूरी तरह झूठा’ करार दिया। थरूर ने कहा, ‘यह एक मोटिवेटेड प्रॉसिक्यूशन है। पुलिस को कोर्ट में साबित करने दीजिए कि यह आत्महत्या का मामला है। सुनंदा ने कभी नहीं कहा कि मैंने उनके खिलाफ कुछ किया हो। सारी बातें कोर्ट के सामने हैं। मैं कोर्ट में इस मामले को लड़ रहा हूं। मैं कोर्ट के सामने खुद को बेगुनाह साबित करना चाहता हूं, इसलिए मैं यहां पर कुछ भी नहीं बोलूंगा।’
थरूर ने कहा, ‘मेरी अंतरात्मा साफ है। मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है। मैंने अपने दोनों शरारती बच्चों को कभी एक थप्पड़ भी नहीं मारा, जबकि कभी-कभी वे डिजर्व करते थे। मैंने अपनी अस्सी साल की मां को टीवी पर रोते हुए देखा। मैंने खुद से वादा किया था कि मैं जीवन में कभी भी कोर्ट या पुलिस स्टेशन नहीं जाऊंगा, लेकिन ऐसा हो गया।’ भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी के उन आरोपों के बारे में पूछे जाने पर जिनमें उन्होंने कहा था कि सुनंदा की मौत का रहस्य आईपीएल से जुड़ा है, थरूर ने कहा, ‘मैं उस शख्स के बारे में बात भी नहीं करना चाहता। मैं उन्हें सीरियसली नहीं लेता हूं। क्या वे लोग तब वहां थे जब वह जिंदा थीं?’
रजत शर्मा के शो ‘आप की अदालत’ में कांग्रेस सांसद शशि थरूर का प्रसारण आज रात 10 बजे इंडिया टीवी पर होगा। इस शो को रविवार 5 अगस्त सुबह 10 बजे और रात 10 बजे फिर से प्रसारित किया जाएगा।

Leave a Comment