Share
सड़क पर दौड़ रही वॉल्वों में अचानक लगी आग, ऐसे बची 21 यात्रियों की जान

सड़क पर दौड़ रही वॉल्वों में अचानक लगी आग, ऐसे बची 21 यात्रियों की जान

देहरादून: करार की तय समय-सीमा पूरी होने के बावजूद सबसे महंगी वॉल्वो बस सेवा को दौड़ाना रोडवेज को भारी पड़ गया। ऋषिकेश से दिल्ली के लिए निकली पुरानी वॉल्वो बस मुरादनगर-राजनगर एक्सटेंशन के बाद आग का शिकार बन गई। बस के पिछले हिस्से में इंजन से धुआं उठा और एकाएक पूरी बस जल गई। गनीमत है कि चालक व परिचालक ने समय रहते बस में सवार सभी 21 यात्रियों को सकुशल बाहर निकाल लिया, वरना कोई भी बड़ा हादसा हो सकता था। बस के अंदर रखा सामान तो बाहर निकाल लिया गया, लेकिन डिग्गी में रखा सामान जल गया। यात्रियों को वहां से दूसरी बस से दिल्ली भेजा गया।

यात्रियों को बेहतर, आरामदायक और आधुनिक तकनीक से लैस सुविधा देने के लिए परिवहन निगम वॉल्वो बस सेवा का संचालन करता है। सामान्य, हाईटेक और एसी बसों की तुलना में वॉल्वो सेवा सबसे महंगी सेवा है। साढ़े छह साल पूर्व वॉल्वो बसों को अनुबंध पर बस बेड़े में शामिल किया गया था। देहरादून के डीलक्स डिपो की एक बस ऋषिकेश से शनिवार सुबह नौ बजे दिल्ली के लिए निकली। बस में 21 यात्री सवार थे।

Leave a Comment