Share
सी0एम0 सलाहकार बैंक जालसाजी के सलाहकार पर संगीन आरोप

सी0एम0 सलाहकार बैंक जालसाजी के सलाहकार पर संगीन आरोप

देहरादून- स्थानीय होटल में पत्रकारों से वार्ता करते हुए जनसंघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जी०एम०वी०एन० ने पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि अभी हाल ही में मुख्यमन्त्री द्वारा सलाहकारों की नियुक्ति की है, जिनमें से एक सलाहकार बैंक जालसाजी का मास्टरमाइंड है, जिसको चार्ल्स शौभराज (अन्तर्राष्ट्रीय ठग) भी कहा जाए तो कम है। इस सलाहकार ने मात्र १०-१५ वर्षो में सैकडों करोड रूपये की अकूत सम्पत्ति जालसाजी/ठगी के माध्यम से अर्जित की है तथा इसी सम्पत्ति/दौलत के जरिये टी०एस०आर० त्रिवेन्द्रर रावत सरकार में सलाहकार जैसा पद हथियाने में कामयाब रहा। उक्त सलाहकार/जालसाज, मुख्यमन्त्री का बेहद करीबी व्यक्ति है तथा इसका पार्टी से दूर-दूर तक कोई रिश्तार नहीं है, फिर भी मुख्यमन्त्री ने व्यक्तिगत हित साधने के लिए अपना सलाहकार नियुक्त किया है।

उल्लेखनीय है कि वर्ष २००० में कैनरा बैंक,शाखा विकासनगर से ड्राफ्ट बुक चुराकर /फर्जी तरीके से हथियाकर एवं फर्जी हस्ताक्षर के माध्यम से उक्त जालसाज ने मुम्बई की शाखा से दर्जनों ड्राफ्ट कैश करा लिये थे तथा वहीं से इस मास्टरमाइंड ने अपने कारोबार की शुरूआत की। आज इस दौलत के माध्यम से भाजपा के कई नेताओं से इस मास्टरमाइंड ने अपने व्यवसायिक एवं पारिवारिक रिश्ते। कायम कर लिये।
एक तरफ तो उत्तसराखण्डा की टी०एस०आर० सरकार भ्रश्टाचार समाप्त करने की बात करती है वहीं दूसरी ओर ठगों/जालसाजों को अपना सलाहकार बनाकर जनता को लूटने का काम करती है। इस मास्टरमाइंड के जरिये त्रिवेन्द्रम सिंह रावत टी०एस०आर० धन उगाना चाहती है।
नेगी ने हैरानी जतायी कि एक तरफ तो भाजपा के निश्ठावान/समर्पित कार्यकर्ता दरी बिछाने तक सीमित हैं तथा वहीं दूसरी ओर सरकार ने इस प्रकार के जालसाज को महत्वपूर्ण पद पर बैठा दिया है।

जनसंघर्ष मोर्चा सरकार द्वारा की जा रही ठगों की फौज के खिलाफ आन्दोलन छेडेगा तथा टी०एस०आर० सरकार से इस मास्टरमाइंड के व्यवसायिक एवं पारिवारिक सम्बन्धों की जाँच हेतु आन्दोलन छेडेगा एवं शीघ्र ही महामहिम राज्यपाल से टी०एस०आर० सरकार को बर्खास्त करने की मांग करेगा।

Leave a Comment