Share
15 मार्च से टेस्ट मैच के लिए अफगानिस्तान और आयरलैंड टीमें होंगी आमने-सामने

15 मार्च से टेस्ट मैच के लिए अफगानिस्तान और आयरलैंड टीमें होंगी आमने-सामने

देहरादून। अफगानिस्तान और आयरलैंड के बीच 15 मार्च से एकमात्र अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच खेला जाना है। इसके लिए मैदान पर धसियाली पिच तैयार की जा रही है। इससे विकेट पर तीसरी पारी तक उछाल मिल सकेगा।

देहरादून के राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में अफगानिस्तान और आयरलैंड के बीच पहला अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच होने जा रहा है। दोनों टीमों ने अभी तक एक-एक टेस्ट मुकाबला खेला है। अफगानिस्तान ने पहला टेस्ट मैच भारत के साथ तो आयरलैंड ने पाकिस्तान के साथ खेला था। इन मुकाबलों में दोनों ही टीमों को हार का सामना करना पड़ा था।

राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में 15 मार्च को दोनों टीमें आमने-सामने होंगी। इसके लिए मैदान को तैयार किया जा रहा है। पिछले एक महीने से लगातार प्रैक्टिस में रहने से मैदान की मरम्मत जोरो से की जा रही है।

वहीं, सूत्रों के मुताबिक स्टेडियम के टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण के लिए घसियाली पिच तैयार की जा रही है। बताया कि अफगानिस्तान और आयरलैंड के बीच पहले टेस्ट मैच के लिए उछाल वाला विकेट तैयार किया जा रहा है। इस विकेट पर काफी घास को देखा जा रहा है। स्टेडियम पर पहली बार अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मुकाबला होने जा रहा है।

दोनों कप्तान ने किया टेस्ट ट्रॉफी का अनावरण

अफगानिस्तान व आयरलैंड के बीच 15 मार्च से होने वाले एकमात्र अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच के लिए दोनों टीमों के कप्तान ने ट्रॉफी का अनावरण किया। इससे पहले दोनों कप्तान पत्रकारों से मैच की तैयारियों को लेकर बातचीत की। इसके बाद दोनों टीमों ने अभ्यास किया।

राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के प्रेस कॉन्फ्रेंस रूम में बुधवार को प्री टेस्ट मैच कॉन्फ्रेंस व टेस्ट मैच ट्रॉफी अनावरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। अफगानिस्तान के कप्तान असगर अफगान और आयरलैंड के कप्तान विलियम पोर्टफील्ड ने ट्रॉफी का अनावरण किया।

इस अवसर पर पत्रकारों से रूबरू होते हुए अफगानिस्तान के कप्तान असगर अफगान ने कहा कि यह मैच हमारे लिए ऐतिहासिक होने वाला है। पहली बार अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड टेस्ट मैच की मेजबानी कर रहा है। उन्होंने कहा कि हमने अपना पहला टेस्ट मैच विश्व की नंबर वन टेस्ट टीम भारत के साथ खेला था। पहले टेस्ट में भले ही हार मिली थी, लेकिन इस मुकाबले में हम पूरी ताकत के साथ उतरेंगे।

उन्होंने कहा कि होमग्राउंड पर खेलने का अनुभव होने से हमें ज्यादा मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि विश्व कप की तैयारियों के लिए यह सीरीज काफी महत्वपूर्ण है। कुछ सीनियर खिलाड़ी एक-दो अवसरों पर भले ही चूक गए हो, लेकिन वल्र्ड कप में उन्हें दरकिनार नहीं किया जा सकता।

उन्होंने कहा कि इस श्रृंखला से हमने कई नए खिलाडिय़ों को भी परखा है, हम विश्व कप में ऐसी टीम चुनेंगे। जिसमें सीनियर के साथ ही युवा खिलाड़ी भी शामिल होंगे।

गेंदबाजी व बल्लेबाजी का मिश्रण दिलाएगा जीत

आयरलैंड के कप्तान विलियम पोर्टफील्ड ने कहा कि गेंदबाजी व बल्लेबाजी का मजबूत मिश्रण हमें इस टेस्ट मैच में जीत दिला सकता है। इससे पहले हमने अपने होमग्राउंड में पाकिस्तान के साथ पहला टेस्ट मैच खेला था। अब भारत में दूसरा टेस्ट खेलने जा रहे हैं। दोनों की कंडीशन में काफी अंतर है।

जीएसआर ऐकेडमी की 13 रनों से जीत

चौथे नवनीश खंडूड़ी-मनोज कुमार मेमोरियल टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के उद्घाटन मुकाबले में जीएसआर क्रिकेट एकेडमी ने ईगल क्रिकेट एकेडमी को 13 रनों से शिकस्त देकर जीत से आगाज किया।

दून ब्वॉयज क्लब की ओर से रेंजर्स ग्राउंड में शुरू हुए टूर्नामेंट में उद्घाटन मुकाबला जीएसआर व ईगल क्रिकेट एकेडमी के बीच खेला गया। ईगल क्रिकेट एकेडमी ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी के लिए जीएसआर क्रिकेट एकेडमी को आमंत्रित किया।

पहले खेलने उतरी जीएसआर क्रिकेट एकेडमी ने निर्धारित 20 ओवर में नौ गंवाकर 111 रन बोर्ड पर लगाए। आशीष गुसाईं ने 32 व विक्रांत ने 22 रनों का योगदान दिया। ईगल क्रिकेट ऐकेडमी के लिए नीरज राठौर, राहुल सिंह व शिखर ने दो-दो विकेट चटकाए।

जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी ईगल क्रिकेट एकेडमी की टीम 19.1 ओवर में अपने सभी विकेट गंवाकर मात्र 98 रन ही बना सकी। प्रवीन ने 22 व अंबर कपरवाण ने 20 रनों का योगदान दिया। जीएसआर एकेडमी के लिए आशीष गुसाईं ने तीन, मयंक चंद्रा व दिव्यांश पुंडीर ने दो-दो विकेट झटके।

इससे पहले मुख्य अतिथि एजीएम बीएसएनएल कोटद्वार एके चौधरी ने टूर्नामेंट का शुभारंभ किया। इस मौके पर सीएयू के सचिव पीसी वर्मा, मुकेश शर्मा, बलबीर सिंह पंवार, विजय प्रताप मल्ल, धीरज खरे, कमल यादव, अनिल डोभाल, मनोज रावत, रवि नेगी, अमित पांडे, पंकज रावत, रवि बिष्ट समेत अन्य मौजूद रहे।

Leave a Comment