Share

अश्विन ने विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की,अब हरभजन सिंह के रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका

भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज स्पिनर आर अश्विन (Ravichandran Ashwin) शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। साउथ अफ्रीका के साथ खेली जा रही हालिया टेस्ट सीरीज में अश्विन ने श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की। अश्विन के पास अब भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह के रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका है।

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेली जा रही तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के लगातार दो मुकाबले जीतकर टीम इंडिया ने सीरीज अपने नाम कर ली है। भारत की इस जीत में स्पिनर आर अश्विन की भूमिका अहम रही है। अश्विन ने दो टेस्ट की चार पारियों में 17 विकेट चटकाए हैं। विकेट लेने वालों की लिस्ट में वह इस वक्त सबसे उपर हैं।

हरभजन का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं अश्विन

साउथ अफ्रीका के खिलाफ सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाजों में पूर्व भारतीय स्पिनर अनिल कुंबले (Anil Kumble) पहले नंबर पर हैं। कुंबले ने 21 टेस्ट में 84 विकेट हासिल किए हैं। जवगल श्रीनाथ ने 13 टेस्ट में 64 विकेट अपने नाम किए हैं जबकि हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने 11 टेस्ट खेलकर 60 विकेट हासिल किए हैं। अश्विन ने 9 टेस्ट मैच में साउथ अफ्रीका के 52 विकेट चटकाए हैं। सीरीज के आखिरी मैच में उनके पास भज्जी का रिकॉर्ड तोड़ने का मौका होगा।

अश्विन के नाम हुआ विश्व रिकॉर्ड

सीरीज के दूसरे मुकाबले में अश्विन ने आठ विकेट हासिल करते ही श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के सबसे कम मैचों में 350 टेस्ट विकेट के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की। मुरली ने 66 टेस्ट में 350 विकेट हासिल किए थे और विशाखापत्तनम टेस्ट से पहले वह इस विश्व रिकॉर्ड को बनाने वाले अकेले गेंदबाज थे। अश्विन ने इस मैच की पहली पारी में 7 जबकि दूसरी में 8 विकेट लेकर विश्व रिकॉर्ड संयुक्त रूप से अपने नाम कर लिया।

Leave a Comment