Asia Cup 2020: भारतीय टीम खेलने नहीं जाएगी पाकिस्तान

नई दिल्ली। Asia Cup 2020: सिंगापुर में एशियन क्रिकेट काउंसिल (ACC) की बैठक हुई। इस बैठक में एशिया कप को आयोजित कराने वाली संस्था एसीसी ने पाकिस्तान को अगले एशिया कप के मेजबानी दे दी गई। ACC की मीटिंग के मुताबिक, एशिया कप 2020 पाकिस्तान में खेला जाएगा। इसी एलान के साथ इस टूर्नामेंट की डिफेंडिंग चैंपियन टीम इंडिया के खेलने पर सवाल उठ खड़े हुए हैं। कहा जा रहा है कि भारतीय टीम पाकिस्तान खेलने नहीं जाएगी।

भारत-पाकिस्तान के बीच सीमा पर पनपे तनाव और राजनैतिक संबंधों में पड़ी दरार की वजह से भारतीय टीम के इस बार शायद इस टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले पाएगी। इससे पहले साल 2018 में दुबई में खेले गए एशिया कप में टीम इंडिया ने रोहित शर्मा की कप्तानी में बांग्लादेश को हराकर खिताब अपने नाम किया था। इस बार ये वनडे एशिया कप 2020 में ऑस्ट्रेलिया में सितंबर में शुरू होने वाले टी20 वर्ल्ड कप से पहले खेला जाना है।

हालांकि, इस मीटिंग में ये भी निर्णय लिया गया है कि टूर्नामेंट को अल्टेरनेट वेन्यू में शिफ्ट किया जा सकता है। अगर भारत-पाकिस्तान इससे सहमत नहीं होते हैं। इस मीटिंग में बीसीसीआइ के सीईओ राहुल जौहरी भी शामिल थे, जो सिंगापुर में हुई। एशिया कप के अलावा एशियन गेम्स में शामिल हुई क्रिकेट को लेकर भी ये मीटिंग थी। हालांकि, एशियन गेम्स में चीन में होंगे तो भारतीय टीम हिस्सा ले सकती है।

आपको बता दें, साल 2009 में श्रीलंका की टीम पर हुए हमले के बाद से पाकिस्तान में एक भी द्विपक्षीय सीरीज और इंटरनेशनल सीरीज नहीं खेली गई। हालांकि, पिछले साल वेस्टइंडीज की टीम जरूर तीन टी20 मैच कराची में खेलकर आई लेकिन बीते करीब एक दशक से पाकिस्तान में कोई इंटरनेशनल टूर्नामेंट नहीं खेला गया है। यहां तक कि 2011 के वर्ल्ड कप की मेजबानी भी पाकिस्तान से छीन ली गई थी क्योंकि साल 2009 में पाकिस्तान की टीम पर हमला हो गया था।

आपको जानना ये भी जरूरी है कि भारत ने साल 2008 के बाद से पाकिस्तान की सरजमीं पर एक भी मैच नहीं खेला है। मुंबई आतंकी हमले के बाद से भारत-पाकिस्तान के रिश्तों में दरार आ गई थी। यहां तक कि इसी साल फरवरी में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद से रिश्तों और खराब हो गए हैं।

इससे पहले कमेटी ऑफ एडमिनेस्ट्रेटर्स के अध्यक्ष विनोद राय ने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) को खत लेकर कहा था कि संघ आतंकवाद फैलाने वाले देशों की सदस्यता खत्म कर दे। सीधे तौर पर ये पत्र वर्ल्ड कप 2019 में भारत बनाम पाकिस्तान मैच को लेकर था, 16 जून को मैनचेस्टर में होना है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद आइसीसी को भेजे गए इस पत्र को आइसीसी ने नामंजूर कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *