Share
धर्म परिवर्तन करने की सूचना पर बजरंगदल के कार्यकर्ताओं ने चार बसों में बैठे करीब दो सौ बच्चों को भेजा घर

धर्म परिवर्तन करने की सूचना पर बजरंगदल के कार्यकर्ताओं ने चार बसों में बैठे करीब दो सौ बच्चों को भेजा घर

लालढांग। धर्म परिवर्तन करने की सूचना पर बजरंगदल के कार्यकर्ताओं ने चार बसों को रोक दिया। उन्होंने बसों में बैठे करीब दो सौ बच्चों को नीचे उतारकर उनके घर भेजा। सूचना मिलते ही श्यामपुर पुलिस ने मौके पर पहुंच युवक को गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं, सूचना देने वाले युवक को से मारपीट का भी आरोप लगाया है।

दरअसल, भाजपा युवा मंडल से जुड़े एक युवक ने बजरंगदल को सूचना दी कि चंडीघाट से करीब दो सौ बच्चों को बसों में बिठाकर धर्म परिवर्तन के लिए देहरादून ले जाया जा रहा है। जिसपर बजरंगदल के कार्यकर्ता चंडीघाट पुलिस चौकी पहुंच गए। यहां उन्होंने बस रुकवाकर बच्चों से पूछा तो उन्होंने बताया कि हमें देहरादून एक कार्यक्रम में ले जाया जा रहा है।

चंडीघाट चौकी इंचार्ज नितेश शर्मा ने हंगामा होता देख बस चालक से सभी बच्चों को उनके घर छोड़ने को कहा। बजरंगदल के कार्यकर्ताओं ने चौकी में हंगामा करना शुरू कर दिया। कुछ ही देर में एसओ श्यामपुर राजीव भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने आरोपित युवक और बजरंगदल के कार्यकर्ताओं को थाने आने को कहा। बजरंगदल के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि आरोपित ने सूचना देने वाले युवक को घर जाकर जमकर पीटा और गाली-गलौज की।

पीड़ित युवक ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि आरोपित चंडीघाट में बच्चों को समुदाय विशेष के प्रति ज्ञान देता है। फिलहाल, पुलिस ने युवक की तहरीर के आधार पर आरोपित को गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू कर दी है। एसओ श्यामपुर राजीव उनियाल ने बताया कि फिलहाल ये कहना जल्दबाजी होगी कि युवक बच्चों को धर्म परिवर्तन के लिए ले जा रहा था। उन्होंने कहा कि जांच करने के बाद ही स्थिति साफ हो पाएगी।

Leave a Comment