Share
शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर अंकुश लगाने के लिए शहर के विभिन्न चौराहों पर लगे बेरिकेट

शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर अंकुश लगाने के लिए शहर के विभिन्न चौराहों पर लगे बेरिकेट

देहरादून। वीकेंड और नववर्ष में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के दौरान उमड़ने वाली भीड़ को देखते हुए पुलिस ने शुक्रवार से एक तारीख तक के लिए ट्रैफिक प्लान जारी कर दिया है। साथ ही पुलिस ने शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर अंकुश लगाने के लिए शहर के विभिन्न चौराहों पर बेरिकेट लगाए हैं। यहां एल्कोमीटर से चालकों की जांच की जाएगी। यातायात सामान्य रहने पर यातायात डायवर्ट नहीं किया जाएगा।

पियक्कड़ों पर अंकुश लगाने के लिए बेरियर

यातायात आवागमन को सुरक्षित बनाने के उद्देश्य से शराब पीकर वाहन चलाने, ओवर स्पीड, रफ ड्राइविंग करने वालों पर अंकुश लगाने के लिए शहर क्षेत्र के प्रमुख चौराहों, तिराहों पर बैरियर लगाकर पर्याप्त पुलिस बल नियुक्त किया जाएगा। राजपुर रोड, सहारनपुर रोड तथा हरिद्वार रोड एवं चकराता रोड के मुख्य स्थानों पर बेरियर लगाकर सिटी पेट्रोल यूनिट को उपलब्ध कराए गए एल्कोमीटर से चेकिंग की जाएगी।

भीड़ बढ़ने पर यह रहेगा प्लान

  • हरिद्वार, ऋषिकेश से मसूरी की ओर जाने वाला यातायात को मियांवाला चौक, लाडपुर, सहस्रधारा क्रासिंग, आइटी पार्क, काठ बंगला पुल, सांई मंदिर, ओल्ड राजपुर रोड, कुठाल गेट से मसूरी की तरफ डायवर्ट किया जाएगा।
  • मसूरी से हरिद्वार ऋषिकेश की ओर जाने वाले यातायात को कुठाल गेट से ओल्ड राजपुर रोड, सांई मन्दिर, काठ बंगला पुल, आइटी पार्क, सहस्रधारा क्रांसिग, लाडपुर होते हुए पुलिया नंबर छह से जोगीवाला की तरफ भेजा जाएगा।
  • दिल्ली, हरियाणा, रुड़की, आइएसबीटी, विकासनगर की ओर से मसूरी जाने वाले यातायात को बल्लूपुर चौक, कैंट पोस्ट ऑफिस तिराहा, सीएसडी तिराहा, सर्किट हाऊस तिराहा, अनारवाला, जोहड़ी गांव, कुठाल गेट होते हुए मसूरी भेजा जाएगा।
  • मसूरी से दिल्ली, हरियाणा, रुड़की, आइएसबीटी, विकासनगर की ओर जाने वाले यातायात को कुठाल गेट, जोहड़ी गांव, अनारवाला, कैंट, बल्लूपुर चौक,  जीएमएस रोड, कमला पैलेस, निरंजनपुर मंडी होते हुए आइएसबीटी की ओर डायवर्ट किया जाएगा।

पटेलनगर में पार्किंग व्यवस्था की जाएगी दुरुस्त

जिला उद्योग मित्र परिषद की बैठक में जिलाधिकारी ने दून के औद्योगिक क्षेत्रों के विकास के लिए विभिन्न दिशा निर्देश जारी किए। गुरुवार को कलेक्ट्रेट परिसर में हुई बैठक में जिलाधिकारी के संज्ञान में पटेलनगर के औद्योगिक क्षेत्र की मुख्य सड़क पर अव्यवस्थित पार्किंग का मुद्दा उठाया गया। बताया गया कि इस मार्ग पर तमाम वाहन बेतरतीब ढंग से खड़े किए जाते हैं। जिससे जाम की स्थिति विकट हो जाती है और कई दफा एंबुलेंस तक जाम में फंस जाती है। जिलाधिकारी ने पुलिस को निर्देश दिए कि प्रयोग के तौर पर कुछ दिन सड़क के सिर्फ एक हिस्से पर ही वाहनों को खड़ा करने की अनुमति दी जाए।

यदि इसके बाद भी हालात काबू में नहीं आते हैं तो दूसरी रणनीति अपनाई जाएगी। इसके साथ ही पटेलनगर क्षेत्र में नालियों की व्यवस्था में सुधार के कार्य को भी जिलाधिकारी ने स्वीकृति प्रदान की। वहीं, सेलाकुई में फायर स्टेशन कार्यालय में बोरवेल न होने की बात भी उठाई गई। जिलाधिकारी ने इसे गंभीर मानते हुए कहा कि जल्द यहां पर बोरवेल निर्माण के लिए बजट का प्रबंध किया जाएगा। ताकि आग की घटना के समय फायर ब्रिगेड के पास प्रचुर मात्र में पानी उपलब्ध रहे।

बैठक में जिलाधिकारी ने मोहब्बेवाला क्षेत्र में टाइटन के मोड़ पर लगने वाली सभी ठेलियों को हटाने के निर्देश नगर निगम को दिए। साथ ही औद्योगिक क्षेत्रों में पाकरें के रखरखाव को बेहतर करने के लिए एमडीडीए को निर्देश दिए गए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण सरिता डोभाल, जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक शिखर सक्सेना, अमित पोखरियाल, इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश भाटिया, अनिल मारवाह, पवन अग्रवाल, मुकेश गुप्ता, विजय सिंह तोमर, रूप कुमार आदि उपस्थित रहे।

 

Leave a Comment