Share
भारत की शर्मनाक हार के 4 गुनहगार

भारत की शर्मनाक हार के 4 गुनहगार

नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में सभी उम्मीदें धरी की धरी रह गईं और पाकिस्तान ने भारत को 180 रनों से हराकर खिताब जीता। भारत की इस शर्मनाक हार में यूं तो कई पहलु रहे जो हार के जिम्मेदार बने लेकिन आंकड़ों व मैच के हालात को देखते हुए ये तीन खिलाड़ी नजर आते हैं हार के सबसे बड़े गुनहगार।

– फ्लॉप रही ये जोड़ी, सारी उम्मीदें की तहस-नहस

यहां हम दो खिलाड़ियों की बात करेंगे लेकिन पिछले कुछ सालो में इन दोनों को एक यूनिट के रूप में देखा जा रहा है। हम बात कर रहे हैं रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की। इन दोनों गेंदबाजों ने पाकिस्तान के खिलाफ इस अहम मुकाबले में जमकर रन लुटाए। एक तरफ थे पिछली चैंपियंस ट्रॉफी में सर्वाधिक विकेट लेने वाले भारतीय स्पिनर रवींद्र जडेजा जिन्होंने 8 ओवर में 68 रन लुटा डाले वो भी बिना कोई विकेट लिए। वहीं, उनके साथी स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 10 ओवर में बिना कोई विकेट लिए 70 रन लुटा डाले। इस दौरान शतकवीर फखर जमान ने उनकी 33 गेंदों पर 45 रन जड़े जो एक बल्लेबाज के खिलाफ एक वनडे मैच में अश्विन का अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन साबित हुआ। नतीजतन पाकिस्तान 338 रन तक पहुंचने में सफल रहा। बाद में भारत 158 रन पर सिमट गया।

– टीम के हिटमैन ने पाकिस्तान को दे दी हरी झंडी

बांग्लादेश के खिलाफ सेमीफाइनल में शतक जड़ने वाले टीम इंडिया के ओपनर और हिटमैन के नाम से मशहूर रोहित शर्मा से काफी उम्मीदें थीं। उन्हें बड़े मैच का खिलाड़ी माना जाता रहा है इसलिए उम्मीद थी कि इस बड़े स्कोर का पीछा करने में वो थोड़ा बहुत योगदान तो दे ही देंगे लेकिन रोहित तो पारी की तीसरी ही गेंद पर चलते बने। मोहम्मद आमिर के पहले ओवर की तीसरी गेंद पर रोहित शून्य पर एलबीडब्ल्यू होकर पवेलियन लौट गए। दबाव में दिख रही टीम इंडिया इसके बाद पूरी तरह दबाव में आ गई, या कहें कि रोहित ने पाकिस्तान को हरी झंडी दे दी कि वे अब पूरी तरह से उनकी टीम पर धावा बोल सकते हैं।

– कप्तान ने ये क्या किया?

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का टूर्नामेंट में सफर उतार-चढ़ाव भरा रहा है लेकिन फैंस को उनसे उम्मीद थी क्योंकि वो पाकिस्तान के खिलाफ कई बार शानदार बल्लेबाजी कर चुके हैं। पहला विकेट गिर चुका था लेकिन धवन एक छोर पर टिकने का प्रयास कर रहे थे। कोहली को ऐसे समय पर बस कुछ समय तक अपने विकेट को बचाकर रखना था ताकि धीरे-धीरे दोनों बल्लेबाज जम सकें..लेकिन विराट ने ऐसे समय में एक गैरजिम्मेदाराना शॉट खेला और कुल 5 रन बनाकर कैच आउट हो गए। उनको आउट करने वाले भी आमिर ही थे। विराट जानते थे कि आमिर की गेंदें अब तक टूर्नामेंट में घातक साबित हुई हैं ऐसे में उनके खिलाफ कुछ देर संभलकर खेलने की जरूरत थी, जो कि नहीं हुआ।

Leave a Comment