Share
कांटली गांव में मुख्यमंत्री ने की बुरांश का पौधा रोपकर अभियान की शुरुआत

कांटली गांव में मुख्यमंत्री ने की बुरांश का पौधा रोपकर अभियान की शुरुआत

अल्मोड़ा: कोसी नदी के संरक्षण के लिए सोमवार को हरेला पर्व के मौके पर एक घंटे में डेढ़ लाख पौधे रोपे जाने का अनूठा कीर्तिमान बना। कौसानी के पास कांटली गांव में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बुरांश का पौधा रोपकर अभियान की शुरुआत की। सीएम ने कहा कि कोसी के उद्गम स्थल से अभियान की शुरुआत कर हमें जीवनदायिनी को बचाने का संकल्प लेना होगा। इस कार्य में जन सहभागिता से पौधरोपण का जो लक्ष्य पूरा किया गया है, उसका संदेश पूरे विश्व में फैलेगा। इस कीर्तिमान को लिम्का बुक ऑफ वल्र्ड में दर्ज कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरेला पर्व के मौके पर नदी क्षेत्र में रोपे गए पौधों की अगले पांच वर्ष तक विशेष सुरक्षा करने की जरूरत है। प्रदेश सरकार जल संरक्षण और संवर्धन की दिशा में गंभीरता से कार्य कर रही है। परंपरागत नौले और धारों के संरक्षण के प्रति हमें गंभीरता से कार्य करने की जरूरत है। कोसी नदी में पूर्व में 48 से अधिक जलस्रोत थे, जो अब 14 रह गए हैं।

इसलिए इन जलस्रोतों के संरक्षण की जिम्मेदारी हम सबकी है। इस अभियान के तहत जिले में 23 स्थानों पर 1,67,755 पौधे रोपने का कीर्तिमान दर्ज किया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा, प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री रेखा आर्या, मुख्य सचिव उत्पल कुमार, कुमाऊं कमिश्नर राजीव रौतेला आदि मौजूद रहे।

Leave a Comment