Share
भवन कर में बढ़ोत्तरी के विरोध में कांग्रेसी पार्षदों ने मुख्य नगर आयुक्त का किया घेराव

भवन कर में बढ़ोत्तरी के विरोध में कांग्रेसी पार्षदों ने मुख्य नगर आयुक्त का किया घेराव

देहरादून। भवन कर में बढ़ोत्तरी से कांग्रेस पार्षद भड़क गए। उन्होंने इसके विरोध में मुख्य नगर आयुक्त का घेराव किया। महानगर काग्रेस अध्यक्ष लालचंद शर्मा के नेतृत्व में पार्षदों ने मुख्य नगर आयुक्त को भवन कर बढ़ोत्तरी सहित शहर की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराते हुए उनके समाधान की माग की।

मुख्य नगर आयुक्त को सौंपे ज्ञापन में उन्होंने कहा कि नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत भवनकर में पुन: बढ़ोत्तरी का प्रस्ताव किया जा रहा है जो न्यायोचित नहीं है। कई क्षेत्रों में भवन कर की दरों पर भी आपत्तिया व शिकायतें आती रही हैं। इस पर अभी तक कोई कार्रवाई न होने के कारण लोग परेशान हैं।

यही नहीं एक ही स्थान की सड़क पर दो दरों के कर का मापदंड भी समझ से परे है। पूर्व की भाति अब भवन स्वामियों के बिल भी समय पर नहीं पहुंचते। इससे भवन कर का भुगतान समय पर नहीं हो पाता व छूट का लाभ नहीं मिल पाता है।

उन्होंने कहा कि इस प्रणाली को सुचारु करवाया जाए व जनहित में टैक्स में बढ़ोत्तरी न की जाए। मलिन बस्तियों में पूर्व में लिए गए कर के अनुसार उपभोक्ताओं से पुन: कर संग्रह किया जाए। शासनादेश के अनुसार नियमित मलिन बस्तियों पर टैक्स लगाने की प्रक्रिया शुरू की जाए। नए क्षेत्रों में कर्मचारियों की भर्ती शुरू की जाए।

उन्होंने कहा कि नगर निगम द्वारा एलईडी लगाकर पथ प्रकाश की जो व्यवस्था की गई थी, वह काफी लचर है। लाइटों की मरम्मत न होने के कारण प्रकाश व्यवस्था सुचारू नहीं है।

ज्ञापन देने वालों में पूर्व विधायक राजकुमार, प्रभुलाल बहुगुणा, डॉ. विजेंद्र पाल, रमेश बुटोला, रजत अग्रवाल, राजेश शर्मा, अर्जुन सोनकर, आनंद त्यागी, दीप बोहरा, नागेश रतूड़ी, राजेंद्र चौहान, शैलेंद्र करगेती, देविका रानी, सागर लांबा, अमित भंडारी, इलियास अंसारी आदि मौजूद रहे।

Leave a Comment