Share
कांग्रेस ने की केरल में आई बाढ़ को राष्‍ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग

कांग्रेस ने की केरल में आई बाढ़ को राष्‍ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग

नई दिल्ली । जहां एक तरफ केरल में बाढ़ से हाहाकार मचा हुआ है, वहीं दूसरी तरफ इस पर राजनीति तेज हो गई है। कांग्रेस ने केरल में आई बाढ़ को राष्‍ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि केरल बाढ़ को बिना देरी किए राष्‍ट्रीय आपदा घोषित किया जाना चाहिए। उन्होंने ट्विटर पर लिखा प्रिय प्रधानमंत्री जी, कृपया देरी किए बिना केरल में आई बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करें। हमारे लाखों लोगों का जीवन, आजीविका और भविष्य दांव पर है।

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने शनिवार को एक बयान में कहा, ‘केरल में 2000-3000 करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है। कांग्रेस मांग करती है कि केरल की बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया जाए। वहीं कांग्रेस की प्रदेश यूनिट्स के साथ हुई राहुल की आज की बैठक में देश भर में बाढ़ का मुद्दा प्रमुखता से छाया रहा। राहुल ने अपनी पार्टी व लोगों से अपील की है कि केरल की बढ़-चढ़ कर मदद की जाए। बैठक में यह तय हुआ है कि कांग्रेस के सभी सांसद, विधायक व विधान परिषद सदस्य अपनी एक माह की सैलरी केरल सरकार को देंगे।

बता दें कि केरल की भयंकर बारिश और बाढ़ ने अबतक 324 लोगों की जान ले ली है। अकेले गुरुवार को 106 लोगों की मौत हो गई। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। साथ ही, मुख्यमंत्री विजयन के साथ हालातों पर बैठक में चर्चा भी की। राज्य में करीब सवा दो लाख बेघर एवं विस्थापित लोगों ने राहत शिविरों में शरण ले रखी है। एनडीआरएफ की 51 टीमें केरल भेजी गई हैं। केरल की बदहाल स्थिति को देखकर कहा जा सकता है कि राज्य सदी की सबसे भीषण बारिश और बाढ़ का सामना कर रहा है।

500 करोड़ रुपये की अंतरिम राहत की घोषणा

केरल की भयंकर बारिश और बाढ़ ने अबतक 324 लोगों की जान ले ली है। अकेले गुरुवार को 106 लोगों की मौत हो गई। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। साथ ही, मुख्यमंत्री विजयन के साथ हालातों पर बैठक में चर्चा भी की। उधर, कांग्रेस पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि केरल बाढ़ को बिना देरी किए राष्‍ट्रीय आपदा घोषित किया जाना चाहिए। वहीं, केंद्र ने केरल के लिए तुरंत राहत के तौर पर 500 करोड़ रुपये जारी किए हैं। हालांकि केरल सरकार ने केंद्र से 2000 करोड़ रुपये मांगे थे।

राज्यों से मिली मदद

बाढ़ प्रभावित केरल के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा घोषित 5 करोड़ रुपये की राशि मुख्यमंत्री राहत कोष से और अन्य 5 करोड़ रुपये भोजन और जरूरी सामानों के रूप में भेजा जाएगा। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से बात कर केरल के हालत की जानकारी ली। केजरीवाल ने केरल को 10 करोड़ देने को कहा है। इसके साथ ही लोगों से अपील की है कि अधिक से अधिक राशि सहयोग करें। वहीं बाढ़ से प्रभावित केरल को सहायता के रूप में तेलंगाना 25 करोड़ रुपए देगा।

Leave a Comment