Share
कृष्णा और कशिश के शव का कोरोनेशन अस्पताल में हुआ पोस्टमार्टम, कशिश की मौत अभी रहस्य

कृष्णा और कशिश के शव का कोरोनेशन अस्पताल में हुआ पोस्टमार्टम, कशिश की मौत अभी रहस्य

देहरादून। कृष्णा और कशिश के शव का कोरोनेशन अस्पताल में डाक्टरों के पैनल ने पोस्टमार्टम किया। इसमें कृष्णा के तो आत्महत्या करने की पुष्टि हो गई, लेकिन कशिश की मौत कैसे हुई, इसका पता नहीं चल पाया। उसके शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं मिले हैं। फ्लैट में जिस तरह से उसका शरीर पड़ा हुआ था, उससे यह माना जा रहा है कि कशिश ने कृष्णा के चंगुल से छूटने की भरपूर कोशिश की थी। डाक्टरों ने उसका बिसरा सुरक्षित रख लिया, जिसे अब जांच के लिए विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा जाएगा।

कृष्णा मल्होत्रा (23) निवासी नहर वाली गली, पलटन बाजार व कशिश मान (19) का शव मंगलवार रात कैनाल रोड स्थित इन्फीनिटी एनक्लेव के एक फ्लैट में मिला था। कृष्णा पंखे से बंधे तार से लटक रहा था, जबकि कशिश बेड पर पड़ी थी।

कृष्णा और कशिश दोनों एक-दूसरे से प्यार करते थे। मगर इधर कुछ दिनों से कशिश उससे दूर होने लगी थी। कृष्णा को शक हो गया था कि कशिश किसी और को चाहने लगी है। माना जा रहा है कि इस दूरी के कारण पर बातचीत के लिए कृष्णा कशिश को लेकर फ्लैट में आया था।

सीसीटीवी फुटेज में मंगलवार शाम चार बजे के करीब कशिश कृष्णा के साथ आराम से फ्लैट की सीढ़ी चढ़ते दिख रहे हैं। कशिश फ्लैट में कृष्णा के साथ बाइक पर आई थी। इससे एक बात यह भी साफ हो गई है कि कशिश और कृष्णा में इतनी भी दूरी नहीं बनी थी कि दोनों का आपस में मिलना-जुलना बंद हो जाए।

कमरे के हालात को देखकर पुलिस को लग रहा था कि कृष्णा ने पहले कशिश को मारा फिर खुद की कलाई काट कर खुदकुशी करने की कोशिश की। कलाई काटने से भी जब मौत नहीं हुई तो उसने फंदा लगा लिया। मगर पुलिस पोस्टमार्टम का इंतजार कर रही थी, जिसकी रिपोर्ट बुधवार शाम को मिली।

रिपोर्ट में कृष्णा की मौत फंदे से लटकने से होना बताया गया है, लेकिन कशिश की मौत के कारणों का पता नहीं चल सका। इसकी बड़ी वजह उसके शरीर पर चोट के कोई निशान न होना है। अब बिसरा जांच से पुलिस यह पता करने की कोशिश करेगी कि कशिश को कहीं कोई विषाक्त पदार्थ तो नहीं दिया गया है, हालांकि फ्लैट से कोई भी विषाक्त पदार्थ नहीं मिला है।

कृष्णा पहले भी कर चुका है खुदकुशी का प्रयास 

कशिश के प्यार में पागल कृष्णा ने एक महीने पहले तब कलाई काटकर खुदकुशी की कोशिश की थी, जब उसे पता चला था कि कशिश किसी और के संपर्क में आने लगी है। हालांकि तब वह बच गया था और परिजनों ने उसे काफी समझाया था।

यहां तक कहा था कि क्या है कशिश में उससे अच्छी और सुंदर लड़की से उसकी शादी करा देंगे। मगर यह बात कृष्णा के गले नहीं उतरी और वह कशिश को पाने की कोशिश में लगा रहा।

कशिश के घर भी पहुंच गया था कृष्णा 

कृष्णा कशिश को मनाने के लिए उसके घर तक पहुंच गया था। वहां उसने हंगामा भी किया था। हालांकि तब कशिश और उसके घर वालों ने उसे समझा-बुझाकर वापस भेज दिया, लेकिन दोनों के परिवारों को इस बात का कतई अंदाजा नहीं था कि कृष्णा प्यार में इस हद तक पहुंच जाएगा।

तो आवेश में उठाया कदम 

पुलिस का मानना है कि फ्लैट में हुई घटना आवेश का नतीजा थी। अगर कृष्णा ने पहले से तय किया होता कि कशिश को मारना और फिर खुदकुशी करनी है तो वह चाकू, पिस्तौल या अन्य कोई हथियार के साथ खुदकुशी के लिए रस्सी भी लेकर आता। मगर बातचीत के बाद मामला बिगड़ गया।

कशिश मर गई और कलाई काटने के बाद जब उसकी मौत नहीं हुई तो वह फंदे के लिए रस्सी खोजने लगा। खून से सने कदमों के निशान इस बात की साफ गवाही दे रहे थे।

तकिये से दबाकर रोक दी कशिश की सांस 

कशिश की मौत को लेकर पुलिस की थ्योरी यह भी है कि कृष्णा ने तकिये से कशिश का मुंह दबा दिया और सांस रुकने से उसकी मौत हो गई। कशिश छटपटाई भी थी, यह उसके शरीर के बेड पर पड़े होने से साफ झलक रहा था। लेकिन इसी वजह से मौत हुई, यह बात अभी साफ नहीं हो सकी है।

मॉडलिंग का भी कशिश को शौक 

डीपीएस में पढ़ाई कर चुकी कशिश को मॉडलिंग का भी शौक था। फेसबुक पर कशिश की अपलोड की गई कई ऐसी फोटो हैं, जिससे उसके मॉडलिंग के शौक का पता चलता है। कृष्णा की मौत पंखे से लटकने से हुई है।

मौत का कारण स्पष्ट नहीं 

एसपी क्राइम लोकेश्वर सिंह के अनुसार कशिश की मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। उसके बिसरा को जांच के लिए भेजा जाएगा। मामले में अभी किसी पक्ष से कोई तहरीर नहीं आई है।

Leave a Comment