Share
कालागढ़ क्षेत्र में नदी किनारे मिला हाथी का शव, आपसी संघर्ष के चलते हुई मौत

कालागढ़ क्षेत्र में नदी किनारे मिला हाथी का शव, आपसी संघर्ष के चलते हुई मौत

रामनगर, नैनीताल : कॉर्बेट पार्क के कालागढ़ क्षेत्र में नदी किनारे एक टस्कर हाथी की मौत हो गई। टस्कर की मौत की वजह अधिकारी आपसी संघर्ष बता रहे हैं। पोस्टमार्टम की कार्रवाई के बाद हाथी के शव को दफना दिया गया।

कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के कालागढ़ क्षेत्र के अंतर्गत मंदाल रेंज पश्चिमी दोमुंडा बीट में वन कर्मियों ने गश्त के दौरान एक हाथी का शव नदी किनारे पड़ा देखा। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को हाथी के शव की जानकारी दी। सूचना मिलने पर कालगढ़ वन प्रभाग के डीएफओ एके त्रिपाठी मौके पर पहुंचे। उन्होंने हाथी के शव का परीक्षण किया।

वन विभाग के अधिकारियों की मानें तो टस्कर के शव पर जगह-जगह घाव के निशान पाए गए हैं। घाव होने से प्रतीत हो रहा है कि हाथी की मौत दूसरे हाथी से संघर्ष के दौरान हुई है। मौके पर झाड़ियां दबी होने से आपसी संघर्ष के प्रमाण मिल रहे हैं। हाथी का शव एक से दो दिन पुराना है, उसकी उम्र 37 साल बताई जा रही है।

कॉर्बेट के पशु चिकित्सक दुष्यंत कुमार ने वनाधिकारियों और वन कर्मियों की मौजूदगी में हाथी के शव का पोस्टमार्टम किया। डीएफओ त्रिपाठी ने बताया कि हाथी की मौत प्रथम दृष्टया आपसी संघर्ष के चलते हुई है। वास्तविकता पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पता चल पाएगी।

Leave a Comment