Share
भाजपा कार्यालय में जहर खाने वाले ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडेय की मौत

भाजपा कार्यालय में जहर खाने वाले ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडेय की मौत

देहरादून : भाजपा कार्यालय में जनता दरबार के दौरान जहर खाने वाले ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडेय की मौत हो गर्इ है। पांडेय का तीन दिनों से मैक्स अस्पताल में इलाज चल रहा था। लेकिन आज उन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं पांंडेय केे निधन पर सीएम ने शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने पांडेेय को बेहतर से बेहतर ट्रीटमेंट देने का प्रयास किया।

दरअसल, भाजपा मुख्यालय में शनिवार को लगे कृषि मंत्री सुबोध उनियाल के जनता दरबार में खुद को ट्रांसपोर्ट व्यवसायी बताने वाला एक फरियादी जहर खाकर पहुंच गया। उसने आरोप लगाया कि वह नोटबंदी और जीएसटी से परेशान है। प्रदेश सरकार में कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इसी वजह से उसने जहर खा लिया है। इस घटना से भाजपा मुख्यालय में हड़कंप मच गया। आनन-फानन फरियादी को अस्पताल पहुंचाया गया।

शाम को उसकी हालात खराब होते देख मैक्स अस्पताल रैफर कर दिया गया। फरियादी ने अपना नाम प्रकाश पांडे, निवासी नई कालोनी, काठगोदाम नैनीताल बताया। उधर, मैक्स में भर्ती प्रकाश पांडे को देखने के लिए नेता भी अस्पताल में पहुंचने लगे। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी अस्पताल पहुंचकर पीड़ित को हर संभव मदद का आश्वासन दिया था।

कांग्रेस ने की पीड़ित परिवार को दस लाख की मदद की मांंग

ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे की मौत की सूचना के बाद हल्द्वानी में भी माहौल गमगीन है। नेता प्रतिपक्ष व स्थानीय विधायक डॉ. इंदिरा हृदयेश ने सीएम त्रिवेंद्र रावत को फोन कर पीड़ित परिवार को तत्काल राहत के तौर पर दस लाख रुपये की सहायता दिए जाने की मांग उठाई। साथ ही प्रकाश की पत्नी कमला पांडे को नौकरी दिए जाने की मांग की। डॉ. इंदिरा हृदयेश ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी से परेशान होकर प्रकाश ने आत्महत्या जैसा कदम मजबूर होकर उठाया है। प्रकाश के दो बच्चों की स्कूल की फीस करीब 22 हजार अभी जमा होनी है।

पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों को जारी किया अलर्ट  

वहीं मामले को लेकर पुुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों को जारी किया अलर्ट। सीओ रैंक के अधिकारियों को ज़िम्मेदारी दी गर्इ है। इसके साथ ही हल्द्वानी और नैनीताल में भी सुरक्षा बड़ाई। एडीजी अशोक कुमार ने इसका सर्कुलर जारी किया है।

Leave a Comment