Share
भारतीय वायु सेना में शहीद हुए ट्रेनर के घर श्रद्धांजलि देने पहुंची रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण

भारतीय वायु सेना में शहीद हुए ट्रेनर के घर श्रद्धांजलि देने पहुंची रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण

देहरादून। बंगलुरु में भारतीय वायु सेना के ट्रेनर विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने में शहीद हुए देहरादून निवासी स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी को श्रद्धांजलि देने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण उनके घर पहुंची। रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण यहां करीब एक घंटे रहीं। फिर वह विशेष चॉपर से लौट गईं।

बता दें, वायुसेना के मिराज-2000 लड़ाकू विमान ने बंगलुरु स्थित एचएएल (हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड) की हवाई पट्टी से उड़ान भरी थी, लेकिन उड़ान भरने के कुछ ही समय बाद विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। बताया गया कि एचएएल का एयरपोर्ट आबादी के बीच है। पायलट ने अगर विमान का रुख न मोड़ा होता तो विमान आबादी क्षेत्र में गिर सकता था। जिससे कई लोगों की जान जा सकती थी।

बंगलुरु में भारतीय वायु सेना के ट्रेनर विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने में शहीद पंडितवाड़ी, देहरादून निवासी स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी का अस्थि कलश सोमवार शाम बंगलुरु से इंडिगो की फ्लाइट में जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचा। एयरपोर्ट पर भारी संख्या में मौजूद लोगों ने शहीद सिद्धार्थ नेगी को श्रद्धासुमन अर्पित किए। पूर्व मुख्यमंत्री व नैनीताल सांसद भगत सिंह कोश्यारी ने भी भावभीनी श्रद्धांजली अर्पित करते हुए शहीद के पिता बलवीर सिंह नेगी, माता व पत्नी धुविका को ढांढस बंधाया।

जौलीग्रांट एयरपोर्ट से सिद्धार्थ के परिजन अस्थि कलश को विसर्जित करने के लिए हरिद्वार रवाना हुए। उधर, हरिद्वार में अस्थि विसर्जन स्थल में राज्य सरकार की ओर से सीएम के प्रतिनिधि के रूप में नगर विकास मंत्री एवं शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक पहुंचे। उन्होंने परिजनों को ढांढस बंधाया।

Leave a Comment