Share
डॉ. धन सिंह रावत ने किया बैंक भवन का शिलान्यास, कहा-10 हजार बेरोजगारों को सहकारिता के जरिये मिलेगा रोजगार

डॉ. धन सिंह रावत ने किया बैंक भवन का शिलान्यास, कहा-10 हजार बेरोजगारों को सहकारिता के जरिये मिलेगा रोजगार

रुद्रपुर। प्रदेश के 10 हजार बेरोजगारों को सहकारिता के जरिये रोजगार मिलेगा। इसमें सिर्फ उत्तराखंड के निवासी ही आवेदन कर सकेंगे। यह घोषणा प्रदेश के राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने बैंक भवन के शिलान्यास के दौरान की।

सहकारिता, उच्च शिक्षा व दुग्ध विकास मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने जिला सहकारी बैंक भवन का शिलान्यास शनिवार दोपहर किया। उन्होंने कहा कि 15 माह के अंदर भवन तैयार होगा। इस चार मंजिला इमारत में 200 किसानों के लिए सभागार भी होगा। बोले, प्रदेश में सहकारिता के जरिये नौकरियों का सृजन किया जाना है, जिसमें 10 हजार को रोजगार देने का लक्ष्य है।

10 दिन के अंदर एक हजार नौकरियों की विज्ञप्ति जारी होगी। आइबीपीएस के जरिये बैंक कर्मियों की परीक्षा होगी, जिसमें सिर्फ उत्तराखंड के लोग ही आवेदन करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सात लाख किसानों को एक लाख तक का ऋण तीन साल के लिए बिना किसी ब्याज के दिया जाएगा। जिसमें 26 जनवरी को ऋण सुविधा दी जाएगी।

इस मौके पर उत्तराखंड राज्य सहकारी बैंक के अध्यक्ष दान सिंह रावत, जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष नरेंद्र मानस, बैंक सचिव, महाप्रबंधक हीरा राम, मेयर रामपाल सिंह, विधायक राजकुमार ठुकराल, विधायक राजेश शुक्ला, निवर्तमान अध्यक्ष सुभाष बेहड़ आदि मौजूद रहे।

25 लाख खाताधारक का लक्ष्य

प्रदेश में को-आपरेटिव बैंक की 33 नई शाखाएं खोली जाएंगी। इसके लिए सरकार ने एक हजार करोड़ का लक्ष्य रखा है। मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश के कुल 182 बैंक घाटे में थे, जबकि वर्तमान में ऐसे मात्र 42 हैं। इन्हें 30 मार्च तक अच्छी स्थिति में लाया जाएगा। 25 लाख लक्ष्य में से पांच लाख नए खाताधारक बना लिए हैं। सभी 13 जिलों में महिला बैंक खुलने हैं, जिनमें से 10 खुल चुके हैं।

मिलेगा मोबाइल एटीएम

सहकारिता मंत्री ने कहा कि प्रदेश की सभी बैंक शाखाओं में एटीएम स्थापित होंगे। उनसे बिना सरचार्ज के रुपया निकाला जा सकेगा। चार एटीएम 10 दिन के अंदर लगेंगे। इसके अतिरिक्त सभी जिलों को मोबाइल एटीएम की सुविधा दी जाएगी। प्रदेश में कुल 100 डिजिटल केंद्र खुलेंगे। जहां पैसा निकासी, जमा व पासबुक प्रिंट के लिए मशीनें लगेंगी। जरूरत के अनुसार नए बैंक खुलेंगे।

महिला उद्यमियों को पांच लाख तक ऋण 

सहकारिता मंत्री ने कहा कि मीडिया कर्मियों व पत्रकारों के लिए सहकारिता का निर्माण होगा। कैमरा व विभिन्न उपकरण खरीदने के लिए दो प्रतिशत ब्याज पर ऋण दिया जाएगा। महिला उद्यमियों के लिए पांच लाख तक का ऋण, हस्तशिल्पियों, कारीगरों व पावर ड्रिल आदि खरीदने को बिना ब्याज ऋण दिया जाएगा। इसके लिए 25 करोड़ की व्यवस्था की गई है। गरीब फेरी वालों को एक हजार का दैनिक ऋण 20 रुपये ब्याज पर दिया जाएगा। जबकि शैक्षिक निधि से मेधावियों को कोङ्क्षचग की सुविधा मिलेगी।

 

Leave a Comment