Share
जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के कई नेताओं को शामिल न करने पर नाराज़ नेताओं ने किया विरोध प्रदर्शन

जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के कई नेताओं को शामिल न करने पर नाराज़ नेताओं ने किया विरोध प्रदर्शन

बेंगलुरु । कर्नाटक चुनाव के नतीजे के बाद से ही यहां राजनीति के बाजार में उठापटक जारी है जो अब तक रुकने का नाम नहीं ले रहा है। एचडी कुमारस्वामी ने सरकार बनने के 15 दिन बाद बुधवार को अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया। कैबिनेट में जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के कई नेताओं को शामिल नहीं किया गया है। इसलिए कांग्रेस के नाराज नेता गुरुवार को विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

कांग्रेस विधायक रोशन बेग व रामालिंगा रेड्डी के समर्थक कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमिटी कार्यालय के बाहर अपने लिए कैबिनेट में मंत्री पद की मांग कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

उल्‍लेखनीय है कि कर्नाटक कैबिनेट में शामिल न होने से निराश आठ कांग्रेस नेताओं ने बेंगलुरु में बैठक की। बैठक करने वाले नेता थे एन ए हैरिस, डॉ सुधाकर, रहीम खान, भीराति बासवराजू, एस शिवाल्‍ली, सतीश जराकिहोली, इश्‍वर खांद्रे और एमटीबी नागराज।

निराशा व्‍यक्‍त करते हुए पूर्व मंत्री एच के पाटिल ने कहा कि उन्‍होंने कांग्रेस पार्टी के लिए खून पसीना बहाया और राजीव गांधी, सोनिया गांधी व राहुल गांधी के साथ काम किया लेकिन अभी भी कर्नाटक कैबिनेट में उन्‍हें शामिल नहीं किया गया।

बता दें कि कैबिनेट में 25 मंत्रियों को शामिल किया गया जिसमें से 14 मंत्री कांग्रेस के, 9 जेडीएस और एक-एक बसपा और केपीजेपी से हैं। बसपा से जेडीएस का जहां चुनाव पूर्व गठबंधन था वहीं नवगठित केपीजेपी के विधायक ने गठबंधन को समर्थन दिया।

पूर्ववर्ती सिद्धरमैया सरकार के कई मंत्रियों को कैबिनेट में जगह नहीं मिली जिनमें एमबी पाटिल, दिनेश गुंडू राव, रामालिंगा रेड्डी, आर. रोशन बेग, एचके पाटिल, श्यामनूर शिवशंकरप्पा, तनवीर सैत और सतीश जारखीहोली शामिल हैं। कांग्रेस के जिन विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली उनमें आर वी देशपांडे, डी के शिवकुमार, के जे जॉर्ज, कृष्णा बायरे गौड़ा, शिवशंकर रेड्डी, रमेश जारखीहोली, प्रियांक खड़गे, यू टी खादेर, जमीर अहमद खान, शिवानंद पाटिल, वेंकटरमनप्पा, राजशेखर पाटिल, पुट्टारंगा शेट्टी और जयमाला शामिल हैं। जेडीएस के मंत्रियों में एच डी रेवन्ना, बंदप्पा काशमपुर, जी टी देवगौड़ा, डी सी थमन्ना, एम सी मनागुली, एस आर श्रीनिवास, वेंकटराव नादगौड़ा, सी एस पुट्टाराजू, सा रा महेश शामिल हैं।

Leave a Comment