Share
चकराता छावनी व आसपास के इलाकों में पेयजल आपूर्ति ठप होने से बूंद-बूंद पानी को तरसे लोग

चकराता छावनी व आसपास के इलाकों में पेयजल आपूर्ति ठप होने से बूंद-बूंद पानी को तरसे लोग

चकराता, देहरादून : पिछले तीन दिन से चकराता छावनी बाजार व आसपास के इलाकों में पेयजल आपूर्ति ठप होने से लोग बूंद-बूंद पानी को तरस गए हैं। चकराता घूमने आए पर्यटकों को भी पानी की बोतल खरीदकर प्यास बुझानी पड़ रही है। समस्या बताने के बाद भी परिषद के अधिकारी लापरवाह बने हुए हैं। लोगों ने छावनी परिषद के सीइओ से आपूर्ति जल्द सुचारू कराने व वैकल्पिक रूप से टैंकरों से आपूॢत कराए जाने की मांग की है।

गुरुवार से छावनी क्षेत्र के सदर बाजार, नया बाजार, अमोली मोहल्ला, सप्लाई, तहसील कॉलोनी, वीर केशरी मार्किट आदि जगहों पर पेयजल आपूर्ति पूरी तरह से ठप पड़ी है। गुरुवार को मात्र 20 मिनट और शुक्रवार को मात्र 15 मिनट पेयजल की आपूर्ति की गई।

वहीं शनिवार को सुबह से एक बूंद पानी की आपूर्ति नहीं की गई, जिस पर स्थानीय निवासियों व होटल व्यवसायियों को अपने खर्चे पर टैंकरों के माध्यम से पानी मंगाना पड़ा। स्थानीय निवासी संजय जैन, हरमोहन आनंद, केशर चौहान, अमित अरोरा, मनमोहन चौहान, नैन सिंह राणा, संयम जैन, तीर्थ कुकरेजा, दौलत चौहान आदि का कहना है कि छावनी परिषद के अंतर्गत लोग पेयजल समस्या से जूझ रहे हैं, लेकिन संबंधित अधिकारी ध्यान ही नहीं दे रहे हैं।

लोगों को पैसे देकर 6 किलोमीटर दूर ग्वासा पुल से पानी मंगाना पड़ रहा है। लोगों का कहना है कि परिषद द्वारा बोरिंग का कार्य भी कराया गया है, लेकिन परिषद की लापरवाही के चलते उसका लाभ भी जनता को नहीं मिल रहा है। उन्होंने परिषद से शीघ्र व्यवस्था सुचारू करने की मांग की। वहीं पक्ष जानने को काफी प्रयास के बाद भी मुख्य अधिशासी अधिकारी जोन्स से संपर्क नहीं हो सका। सभासद आनंद राणा का कहना है कि लाइन टूटी होने से आपूर्ति बाधित है व परिषद से टैंकर के माध्यम से आपूर्ति को कहा गया है।

Leave a Comment