Share
लोकसभा चुनाव के दौरान दून में कई जगह विवाद की रही स्थिति, कहीं नोकझोंक तो कही हुआ हंगामा

लोकसभा चुनाव के दौरान दून में कई जगह विवाद की रही स्थिति, कहीं नोकझोंक तो कही हुआ हंगामा

देहरादून। लोकसभा चुनाव के दौरान जनपद देहरादून में कई जगह विवाद की भी स्थिति रही। कहीं विधानसभा अध्यक्ष की मतदान कर्मी से नोकझोंक, कहीं वीवीपैट मशीन की खराबी पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने हंगामा किया। इसके अलावा कई जगह भाजपा-काग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच भी तनातनी रही।

विधानसभा अध्यक्ष की मतदान कर्मी से नोकझोंक 

ऋषिकेश में मतदान को पहुंचे विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद्र अग्रवाल की मतदान ड्यूटी पर तैनात कर्मियों के साथ नोकझोंक हुई। वह पत्नी चंद्रप्रभा और पुत्र पीयूष के साथ ज्योति विशेष विद्यालय मतदान केंद्र में पहुंचे। मतदाताओं के साथ लाइन में करीब आधा घंटा खड़ा होने के बाद वह बूथ पर अंदर पहुंचे तो मतदान कर्मी ने परिचय पत्र मांगा।

विधानसभा अध्यक्ष ने बीएलओ को फोटोयुक्त वोटर स्लिप उपलब्ध कराई। जिससे कर्मचारी संतुष्ट नहीं हुआ। विधानसभा अध्यक्ष ने फोटो पहचान पत्र दिखाया। इस दौरान दोनों में नोकझोंक हुई। लगभग दस मिनट बाद मामला शांत हुआ।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि मतदान कर्मी मतदाताओं को अनावश्यक रूप से परेशान कर लंबे इंतजार को मजबूर कर रहे हैं। मतदाताओं से अनावश्यक ऐसे सवाल किए जा रहे हैं जैसे वह कोई अपराधी हों। पीठासीन अधिकारी को उन्होंने शिकायत दर्ज कराई। उन्होंने कहा कि इस पोलिंग बूथ का यदि मतदान प्रतिशत कम होता है तो निर्वाचन आयोग से शिकायत की जाएगी।

मशीन खराब होने पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का हंगामा

चकराता रोड स्थित डीएन सैनी ऐकेडमी स्कूल में बनाए गए बूथ में कक्ष संख्या-एक में वीवीपैट मशीन खराब होने की शिकायत रही। इसके बाद स्थानी लोगों ने प्रीतम सिंह को सूचना दी, जिसके बाद वह कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर पहुंचे।

प्रीतम सिंह सीधे कक्ष में घुसे और पीठासीन अधिकारी के समक्ष कड़ी आपत्ति जताई। उन्होंने चार बार मशीन खराब होने को साजिश का हिस्सा बताया। करीब आधे घंटे तक हंगामे की स्थिति बनी रही। इस दौरान भाजपा के महानगर महामंत्री आदित्य चौहान सहित अन्य नेता भी मौके पर पहुंचे और उन्होंने प्रीतम सिंह व अन्य नेताओं के कक्ष में प्रवेश करने पर आपत्ति जताई।

इस दौरान तनातनी की स्थिति भी बनी रही। इसके आधा घंटा बाद प्रदेश कांग्र्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना भी मौके पर पहुंच गए। काफी देर वहां हंगामा चलता रहा।

एजेंट को लेकर भिड़े भाजपा-कांग्रेस

हाथीबड़कला स्थित केंद्रीय विद्यालय नंबर-2 में बनाए गए मतदान केंद्र पर बूथ नंबर-एक में एजेंट (अभिकर्ता) को लेकर भाजपा-कांग्रेस के समर्थक आमने-सामने आ गए। कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने भाजपाइयों पर मतदान में गड़बड़ी का आरोप लगाया। कांग्रेस नेता गोदावरी थापली ने आरोप लगाया कि भाजपाई मनमानी कर रहे हैं। इस दौरान उनकी बहस बूथ पर तैनात सुरक्षा कर्मियों से भी हुई।

नारेबाजी पर छिड़ा विवाद 

नेमी रोड स्थित दून वैली स्कूल में बनाए गए मतदान केंद्र पर भी हंगामा हुआ। यहां पर भाजपा के समर्थकों ने कांग्रेसियों की मौजूदगी में मोदी-मोदी के नारे लगाए। जिस पर भाजपा व कांग्रेस के कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए। वहां विवाद की स्थिति बन गई। नारेबाजी पर कांग्रेसियों ने ऐतराज जताया। यह आरोप भी लगाया कि बूथ पर तैनात सुरक्षा बल भी भाजपा के दबाव में है।

कांग्रेस ने दोबारा मतदान की मांग वापस ली

कैंट विधानसभा क्षेत्र के तहत डीएन सैनी पब्लिक स्कूल, विजय पार्क एक्सटेंशन स्थित पोलिंग बूथ के कक्ष संख्या 17 में ईवीएम मशीन खराब होने के कारण घंटों मतदान बाधित रहा। इसके बाद कांग्रेस ने इस बूथ पर पुर्नमतदान की मांग की थी, जिसे देर शाम वापस ले लिया गया। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष व टिहरी लोकसभा सीट से प्रत्याशी प्रीतम सिंह ने इसकी पुष्टि की।

कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा ने गुरुवार शाम को मतदान के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी से शिकायत की कि उपरोक्त पोलिंग बूथ पर ईवीएम मशीन खराब होने के बाद भी सही मशीन नहीं लगाई गई। जिससे करीब चार घंटे मतदान बाधित रहा।

मौके पर पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने भी इसका विरोध किया और चुनाव अधिकारियों से इसकी शिकायत की थी। प्रीतम सिंह ने कहा कि जिला निर्वाचन अधिकारी के जवाब के बाद कांग्रेस ने पुर्नमतदान की शिकायत वापस ले ली है।

Leave a Comment