Share
घुटने की चोट से परेशान होकर महिला बॉक्सर ने की आत्महत्या

घुटने की चोट से परेशान होकर महिला बॉक्सर ने की आत्महत्या

थल, पिथौरागढ़ : मुवानी क्षेत्र की मुगरोली गांव निवासी महिला बॉक्सर ने जहरीला पदार्थ खाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली है। बताया जा रहा है कि घुटने की चोट से वह परेशान चल रही थी। इसी से दुखी होकर उसने यह कदम उठाया।

गत सांय गीतिका राठौर (18 वर्ष)  पुत्री हुकुम सिंह राठौर घर पर अकेली थी। इस दौरान उसने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। गीतिका बॉक्सिंग खिलाड़ी थी। पिछले एक माह से उसका स्वास्थ्य खराब चल रहा था।

बताया जा रहा है कि एक वर्ष पूर्व उसके घुटने में चोट लग गई थी। सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में उसके घुटने का ऑपरेशन किया गया। घुटने की चोट की वजह से वह मानसिक रूप से परेशान चल रही थी। इसे ही आत्महत्या का कारण माना जा रहा है।

बच सकती थी गीतिका की जान 

जब गीतिका के परिजन उसे उपचार हेतु थल स्थित गोचर स्वास्थ्य केंद्र में लाए, तो वहां चिकित्सक नहीं होने की वजह से फार्मासिस्ट ने उसे पिथौरागढ़ रेफर कर दिया। 108 से पिथौरागढ़ लाते वक्त मुवानी पहुंचने से पहले ही उसने दम तोड़ दिया।

Leave a Comment