Share
केदारनाथ धाम के कपाट खुलने पर पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे बाबा केदार के दर्शन

केदारनाथ धाम के कपाट खुलने पर पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे बाबा केदार के दर्शन

देहरादून: आगामी 29 अप्रैल को केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाबा केदार के दर्शन करने वाले पहले श्रद्धालु हो सकते हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा प्रधानमंत्री के केदारनाथ दौरे के सोशल मीडिया पर जारी कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री सुबह छह बजे केदारनाथ पहुंचेंगे और छह बज कर 55 मिनट पर बाबा केदार की पूजा-अर्चना करेंगे। प्रधानमंत्री के साथ ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी समेत भाजपा शासित राज्यों के कई मुख्यमंत्रियों के केदारनाथ पहुंचने की संभावना है। प्रदेश सरकार की ओर से मंगलवार को इन सभी मुख्यमंत्रियों को आमंत्रण पत्र भेज दिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बाबा केदार के प्रति अगाध श्रद्धा है। केदारपुरी का पुनर्निर्माण उनका ड्रीम प्रोजेक्ट है। इस प्रोजेक्ट पर काफी हद तक कार्य पूरा कर लिया गया है। यहां तक कि केदारनाथ धाम की गाथा बताने वाला लेजर शो भी प्रधानमंत्री की प्रेरणा के बाद ही आयोजित कराया जा रहा है। प्रदेश सरकार की मंशा भी है कि नए कलेवर में निखर रही भव्य केदारपुरी प्रधानमंत्री के हाथों ही जनता को समर्पित हो। इसके लिए सरकार की ओर से तैयारियां भी तकरीबन पूरी हो चुकी हैं। केदारपुरी को इस तरह से संवारा गया है कि मंदिर के दर्शन पांच सौ मीटर पहले से ही हो सकेंगे।

सरस्वती एवं मंदाकिनी नदी के संगम से ही मंदिर तक भजन गूंजेंगे। आयोजन को भव्य बनाने के लिए रूपरेखा भी तकरीबन तैयार हो चुकी है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के इंस्ट्राग्राम व फेसबुक एकाउंट पर दर्शाये गए कार्यक्रम के मुताबिक 29 अप्रैल को सुबह साढ़े पांच बजे प्रधान पुजारी, धर्माचार्य व हक हकूकधारी मंदिर में पहुंचेंगे। छह बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राज्यपाल डॉ. कृष्णकांत पाल व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत मंदिर के पूर्वी द्वार पर पहुचेंगे।

सवा छह बजे कपाट खुलने का कार्य शुरू होगा। छह बज कर 20 मिनट पर रावल व पुजारी गर्भगृह में प्रवेश करेंगे और पूजा करेंगे। छह बज कर 55 मिनट पर प्रधानमंत्री गर्भगृह में प्रवेश कर पूजा अर्चना करेंगे। इसके साथ ही बाबा केदार के दर्शन का कार्यक्रम शुरु हो जाएगा। सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री 29 अप्रैल को दिल्ली से सरसावा और फिर वहां से सीधे केदारनाथ को रवाना होंगे।

Leave a Comment