सालों से गंदा पानी पीने को मजबूर यहां के लोग, ड्रेनेज बनी दूसरी बड़ी समस्या

देहरादून। नगर निगम में शामिल हुए लाडपुर क्षेत्र में वैसे तो समस्याओं की भरमार है, लेकिन इस क्षेत्र की सबसे बड़ी समस्या है शुद्ध पेयजल। सालों से यहां के लोग गंदा पानी पीने को मजबूर हैं। कभी-कभी तो क्षेत्र में इतने अधिक गंदे पानी की सप्लाई होती है कि लोगों को दूसरी जगह से पानी लाकर पीना पड़ता है। ड्रेनेज की समस्या इस क्षेत्र की दूसरी बड़ी समस्या है। निकासी न होने के कारण यहां के मुख्य मार्ग के साथ ही कॉलोनियां बरसात में तालाब में तब्दील हो जाती हैं। इसके अतिरिक्त स्ट्रीट लाइट, साफ सफाई, सड़कों की समस्या भी क्षेत्र में बनी हुई है।

रायपुर विधान सभा क्षेत्र के वार्ड नंबर 60 लाडपुर भले ही शहर से सटा हुआ हो, लेकिन यहां समस्याओं का अंबार इस तरह लगा है, मानों यह कोई दूरस्थ गांव हो। सालों से क्षेत्र में गंदे पानी की सप्लाई हो रही है, लेकिन समस्या का समाधान करने वाला कोई नहीं है। पूरे क्षेत्र में बांदल जल स्रोत से पानी की सप्लाई होती है। पुरानी लाइन होने के कारण इसमें जगह-जगह लीकेज हैं। लीकेज की वजह से यहां गंदा पानी आता है।

अन्य महीनों में तो किसी तरह से काम चल जाता है, लेकिन बरसात में लोगों को दूसरे क्षेत्रों में रहे अपने रिश्तेदारों के यहां से पानी लाना पड़ता है। क्षेत्रवासियों की मांग पर इस क्षेत्र के लिए वर्ष 2015 में एक ट्यूबवेल स्वीकृत हुआ था, लेकिन अभी तक ट्यूबवेल का निर्माण नहीं हो पाया है। जिसका नतीजा है कि लोग गंदा पानी पीने को मजबूर हैं। पानी की समस्या के साथ ही यहां दूसरी बड़ी समस्या ड्रेनेज की है। न तो मुख्य सड़कों पर नालियों का अता-पता है और न ही कॉलोनियों में। क्षेत्र के विष्णुलोक कॉलोनी, फ्रेड्स कॉलोनी, रक्षा पुरम, विद्या विहार, ननूरखेड़ा में कहीं पर नालियां बनाई भी गई है तो वह भी पूरी नहीं बनी हैं।

निकासी न होने के कारण बरसात में पूरा पानी कॉलोनियों में भर जाता है और कॉलोनियां तालाब में तब्दील हो जाती हैं, जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसके अतिरिक्त वार्ड में बिजली के पोल की हालत भी काफी जर्जर बनी हुई है। स्ट्रीट लाइटों की कोई व्यवस्था नहीं है। क्षेत्र के बीचों-बीच रिस्पना नदी पड़ती है जो गंदगी से भरी पड़ी है। वहां से उठने वाली बदबू के कारण आसपास रहने वाले लोगों का जीना दूभर हो रखा है।

अतिक्रमण हटाने के बाद नहीं हुई सफाई 

लाडपुर क्षेत्र में रायपुर कोतवाली से लेकर पूरी रोड पर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई थी। जिसके बाद यहां दोनों तरफ नालियों का निर्माण के साथ ही फुटपाथ बनने थे, लेकिन नालियां व फुटपाथ तो दूर अभी तक सड़कों से ईंट-पत्थर तक नहीं हटाए गए हैं। जिससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

ननूरखेड़ा निवासी अजीत रौथाण ने बताया कि क्षेत्र में समस्याओं का अंबार लगा हुआ है। यहां सड़कों पर नालियां नहीं हैं। जिससे जलभराव की समस्या बनी रहती है। स्ट्रीट लाइटों की व्यवस्था न होने से लोगों को रात में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसके साथ ही साफ सफाई की बड़ी समस्या बनी हुई है।

लाडपुर निवासी हीरालाल कौल बताते हैं कि क्षेत्र में बिजली की समस्या बनी हुई है। यहां अक्सर लो वोल्टेज और लाइट के कम-ज्यादा होने की समस्या बनी रहती है। कई बार इसकी शिकायत करने के बाद भी आज तक समस्या का समाधान नहीं हो पाया है।

वहीं विद्या विहार निवासी आरएस भंडारी का कहना है कि यहां लोगों ने नालियों और सड़कों पर कब्जा कर दिया है। जिससे पानी की निकासी नही हो पाती है और बरसात में जलभराव की समस्या बनी रहती है। लोग घरों में कैद होने को मजबूर हो जाते हैं।

इसके साथ ही पार्षद कविंद्र सेमवाल बताते हैं कि क्षेत्र में सबसे बड़ी समस्या शुद्ध पेयजल की है। इसके साथ ही क्षेत्र में ड्रेनेज की कोई व्यवस्था नहीं है। स्ट्रीट लाइट, पोलों की स्थित, सफाई व्यवस्था की भी हालत ठीक नहीं है। इन सब समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर नगर निगम में उठाया जाएगा और इनके समाधान की कोशिश की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *