Share
आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू को घर खाली करने का नोटिस

आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू को घर खाली करने का नोटिस

Weather Update: बाढ़ से हाहाकार, आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू को घर खाली करने का नोटिस
नई दिल्ली,  Weather Update, देश के कई राज्यों में बारिश का कोहराम जारी है। भारी बारिश के चलते आंध्र प्रदेश समेत देश के कई राज्यों में बाढ़ आ गई है। आंध्र की पूर्वी गोदावरी, पश्चिम गोदावरी, गुंटूर और कृष्णा जिलों के कई गांव भारी वर्षा के बाद बाढ़ की चपेट में हैं। गोदावरी और कृष्णा नदियों में जल स्तर भी लगातार तेजी से बढ़ रहा है। इसी बीच ताडेपल्ली गांव के उप तहसीलदार ने पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू को बाढ़ के चलते जल्द-जलद घर खाली करने को नोटिस भेजा है। उन्हें यह नोटिस बाढ़ का पानी घर में घुसने की आशंका में दिया गया है।
View image on Twitter

आंध्र के राज्यपाल ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया
इससे पहले आंध्र प्रदेश के राज्यपाल बिस्वा भूषण हरिचंदन ने शनिवार को राज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। पिछले हफ्ते मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने गोदावरी के पास बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का सर्वेक्षण किया था। मौसम विभाग के अनुसार 18 से 20 अगस्त तक राज्य के तटीय क्षेत्रों में भारी वर्षा का अनुमान है।

जानलेवा स्थिति बनी हुई है
बाढ़ और बारिश की वजह से पहाड़ से लेकर मैदानी इलाकों में स्थिति जानलेवा बनी हुई है। मौसम विभाग ने शनिवार को भी उत्तराखंड के टिहरी, पौड़ी, रुद्रप्रयाग और कुमाऊं समेत कई हिस्सों में मूसलाधार बारिश का अलर्ट जारी किया है। विभाग के अनुसार दो दिन तक राज्य में  भारी बारिश होगी। इसके अलावा विभाग ने अगले दो दिनों तक आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश और पंजाब समेत कई अन्य राज्यों में भारी बारिश का अनुमान जताया है।

धर्मेंद्र प्रधान ने ओडिशा के बाढ़ प्रभावित का हवाई सर्वेक्षण किया
केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने आज ओडिशा के बाढ़ प्रभावित बलांगीर, कालाहांडी, बौध, सोनेपुर जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान भाजपा सांसद संगीता सिंह देव और बसंत कुमार पांडा भी मौजूद रहे।

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

बंगाल में भी बारिश का कहर
पश्चिम बंगाल में भी भारी बारिश का कहर जारी है। इसके चलते कोलकाता के कुछ हिस्सों में जल-जमाव की स्थिति पैदा हो गई है। 

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

रेलवे की पटरियों पर मोर नाचते दिखाई दिए
तमिलनाडु के भी कई इलाकों में बारिश और बाढ़ की वजह से तबाही मची हुई है। इसी बीच तमिलनाडु के मंडपम इलाके में स्थित रामनाथपुरम रेलवे स्टेशन पर कुछ अलग ही नजारा देखने को मिला। यहां रेलवे की पटरियों पर कुछ मोर नाचते दिखाई दिए।

Embedded video

चेन्नई और वेल्लूर में भारी बारिश
तमिलनाडु के चेन्नई और वेल्लूर में बीती रात से ही भारी बारिश हो रही है। इससे यहां जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। सड़कें पानी डूब गई हैं। मौसम विभाग ने समुद्री तटों पर लगातार बारिश की संभावना जताई है।

श्रीनगर में भूस्खलन
जम्मू-कश्मीर में भी तेज बारिश जारी है। राज्य की कई जगहों से भूस्खलन की खबरें सामने आ रही हैं। श्रीनगर के राजबाग इलाके में भारी भूस्खलन की खबर है। हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

केरल में अब तक 113 की मौत, 50 लापता
बाढ़ और बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य केरल है। यहां अब तक 113 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं लगभग 50 लोग लापता बताए जा रहे हैं।

धर्मशाला में आज स्कूल रहेंगे बंद
शनिवार को धर्मशाला जिले में भारी बारिश के कारण सभी शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। जिलाधिकारी राकेश कुमार प्रजापति ने एक आदेश में कहा, ‘जिले भर में हो रही भारी बारिश को ध्यान में रखते हुए, मैं आज और 17 अगस्त को स्कूलों और शैक्षणिक संस्थानों के लिए अवकाश घोषित करता हूं।’ मौसम विभाग के अनुसार जिले में अगले दो दिनों तक बारिश जारी रहेगी।

हिमाचल प्रदेश के मंडी में भूस्खलन
मौसम विभाग ने पर्वतीय राज्यों को लेकर अलर्ट जारी किया है। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के गोहार गांव के पास भीषण भूस्खलन की खबर है। इस हादसे में कोई घायल नहीं हुआ। राज्य में लगातार बारिश जारी है।वहीं कांगड़ा जिले के नटपुर के टटल के पास राजमार्ग पर एक पेड़ गिरने के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग (NH) 154 अवरुद्ध हो गया है।

Embedded video

पंजाब में अगले दो दिन भारी बारिश का अनुमान
मौसम विभाग ने अगले दो दिनों के दौरान पंजाब के लुधियाना, अमृतसर और चंडीगढ़ में भी भारी बारिश का अनुमान जताया है।

कई गांव टापू में तब्दील
उत्तराखंड के बांसवाड़ा, बद्रीनाथ, लंगासु समेत कई जगह पर भूस्खलन की खबरें हैं। इसके अलावा मैदानी इलाकों में भी बारिश और बाढ़ का कहर जारी है। मध्य प्रदेश के बारगी बांध के 15 गेट खुलने से बारना नदी का पानी बेकाबू हो गया है। इसके चलते कई गांव टापुओं में तब्दील हो गए हैं।

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

राजस्थान में कालीसिंध नदी उफान पर
राजस्थान में भी भारी बारिश और बाढ़ का प्रकोप देखने को मिल रहा है। राज्य में कालीसिंध नदी उफान पर है। कालीसिंध नदी के आसपास के इलाके पूरी तरह से डूब गए हैं। झालावाड़ के कुछ इलाकों में भारी बारिश के बाद जलप्रलय जैसी स्थिति बन गई है।

Leave a Comment