Share
पूर्व गेंदबाज जवागल श्रीनाथ ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का बरीकी से किया निरीक्षण

पूर्व गेंदबाज जवागल श्रीनाथ ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का बरीकी से किया निरीक्षण

देहरादून: आइसीसी के प्रतिनिधि के तौर पर पूर्व अंतरराष्ट्रीय तेज गेंदबाज जवागल श्रीनाथ ने रायपुर स्थित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का दौरा किया। पहली बार आइसीसी के किसी अधिकारी ने स्टेडियम का दौरा किया है। उन्होंने स्टेडियम के अधिकारियों से ग्राउंड के नजदीकी अस्पताल और अग्निशमन के इंतजाम की जानकारी ली। इसका उन्होंने मैप भी मांगा है, जिससे वे आइसीसी के पदाधिकारियों के सामने स्टेडियम की तस्वीर बेहतर ढंग से रख सके।

आइसीसी के प्रतिनिधि व टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज गेंदबाज जवागल श्रीनाथ ने स्टेडियम का बरीकी से निरीक्षण किया। सबसे पहले वह पिच पर पहुंचे और अफगानिस्तान टीम के कोच फिलि साइमंस के साथ विकेट के बारे में चर्चा की।
इस दौरान प्रैक्टिस कर रहे टीम के खिलाड़ियों से भी उन्होंने ग्राउंड के बारे में चर्चा की। सूत्रों के अनुसार श्रीनाथ ने ग्राउंड पर मैन्युअल स्कोर बोर्ड की कमी और साइड स्क्रीन का साइज बढ़ाने के निर्देश दिए। स्टेडियम संचालन कर रही कंपनी अधिकारियों ने आश्वस्त किया कि वे जल्द ही इस कमी को दूर कर देंगे।

इसके बाद उन्होंने सबसे अहम अग्निसुरक्षा के इंतजाम, स्टेडियम से अस्पताल की दूरी, प्रवेश और निकासी द्वार के साथ ही स्टेडियम में उपलब्ध तमाम सुविधाएं जाची। करीब 45 मिनट तक ग्राउंड में समय बिताने के बाद श्रीनाथ ने साउथ पवेलियन में क्लब हाउस, रेस्टोरेंट, प्लेइंग एरिया, जिम, स्विमिंग पूल का भी निरीक्षण किया।

खिलाड़ियों के लिए उपलब्ध तमाम सुविधाओं से श्रीनाथ संतुष्ट नजर आए। इस दौरान बीसीसीआइ के मैनेजर लॉजिस्टिक मयंक पारेख, आइएल एंड एफएस के वाईस प्रेसिडेंट के शशिधर भी मौजूद रहे।

टीम ने पांच घंटे की प्रैक्टिस
अफगानिस्तान और उत्तराखंड के बीच पहला प्रैक्टिस मैच स्टेडियम में खेला जाना है। इससे पहले सोमवार को अफगानिस्तान टीम के टी-20 और टेस्ट प्लेयर्स ने मैदान पर करीब पाच घटे पसीना बहाया। ग्राउंड पर ही टीम ने शाम को रोजा खोला और नमाज पढ़ने के बाद प्रैक्टिस शुरू की। रात करीब नौ बजे खिलाड़ियों ने जिम में भी कसरत की।

इस दौरान टीम की सुरक्षा बेहद कड़ी रही। प्रैक्टिस मैच के दौरान प्रवेश पर प्रतिबंध आज मंगलवार रात उत्तराखंड और अफगानिस्तान के बीच होने वाले प्रैक्टिस मैच में बाहरी लोगों के प्रवेश पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध रहेगा। बीसीसीआइ के मयंक पारेख ने इसके लिए स्टेडियम अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए है।

मैच के दौरान स्टेडियम में रहेगी कड़ी सुरक्षा
उत्तराखंड की 16 सदस्यीय टीम के अलावा पाच ऑफिशल्स को ही स्टेडियम में प्रवेश मिलेगा। यह भी तय है कि बिना पहचान पत्र के किसी को भी स्टेडियम में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। सुरक्षा व्यवस्था जांचने के लिए एडीएम अरविंद पाडेय और एसपी सिटी प्रदीप राय ने भी देर रात स्टेडियम और आसपास के इलाके का निरीक्षण किया।

विदेशी टीमों के साथ खेलेंगे उत्तराखंड के 33 खिलाड़ी

अफगानिस्तान और बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले प्रैक्टिस मैचों में सूबे के 33 खिलाड़ियों को मौका मिलेगा। उत्तराखंड क्रिकेट टीम की कमान आइपीएल खिलाड़ी पवन सुयाल संभालेंगे।
अफगानिस्तान के खिलाफ होने वाले डे-नाइट प्रैक्टिस मैच के लिए उत्तराखंड की प्लेइंग इलेवन टीम जल्द तय होगी। अफगानिस्तान के खिलाफ उत्तराखंड की दो डे-नाइट प्रैक्टिस मैच खेलेगी, जबकि एक जून को बांग्लादेश के साथ उत्तराखंड की टीम का प्रैक्टिस मैच होगा।

साथ ही 26 से 28 मई तक अफगानिस्तान के खिलाफ सूबे की टीम तीन दिवसीय टेस्ट मैच भी खेलेगी। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के सचिव पीसी वर्मा ने बताया कि तनुष क्रिकेट ऐकेडमी में हुए चयन ट्रायल के आधार पर कुल 33 खिलाड़ी चुने गए हैं।

टी-20 सीरीज और टेस्ट मैच को देखते हुए खिलाड़ियों का चयन किया गया है। वहीं, 25 मई से शुरू होने वाले ऑल इंडिया उत्तराखंड गोल्ड कप क्रिकेट टूर्नामेंट के लिए टीम की घोषणा 25 मई को ही होगी। टीम चयन में जिला क्रिकेट संघ के उपाध्यक्ष धीरज खरे, पूर्व विज्जी ट्रॉफी खिलाड़ी अमित पांडेय, मनीष गुरुंग ने अहम भूमिका निभाई।
इनका हुआ चयन

कुणाल चंदेला, पवन सुयाल, करनवीर सिंह, शुभम पुंडीर, आर्य सेठी, वैभव पंवार, विशाल डंगवाल, धनराज शर्मा, सन्नी राणा, फतेह सिंह राणा, तनुष गुसाई, अग्रिम तिवारी, संयम अरोड़ा, मनीष गौड़, प्रशांत चौहान, भानूप्रताप, पवन सुंद्रियाल, हिमांशु बिष्ट, जगमोहन नागरकोटी, अखिल रावत, रोहित डंगवाल, प्रदीप चमोली, क्षितिज तिवारी, नीरज सैनी, अभिनव बिष्ट, आदित्य सेठी, एकलव्य गुप्ता, कमल कनियाल, प्रतीक पंवार, मयंक मिश्रा, मनीष भारद्वाज, अमित चौधरी, एसएस किमोठी व सर्वनाम गौतम।

ये भी निभाएंगे भूमिका

टीम मैनेजर कुमार थापा, हेड कोच अवनीश वर्मा, सहायक कोच मनीष गुरुंग, सहायक मैनेजर अमित पांडेय, फिजियो पवन पाल व मेंटर डीके शर्मा होंगे।
मोहाली की तर्ज पर बनेगा रायपुर स्टेडियम का सुरक्षा प्लान

रायपुर स्थित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में मोहाली (चंडीगढ़) जैसी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। इसके लिए पुलिस मुख्यालय ने मोहाली का प्लान मंगवाते हुए सुरक्षा की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस मामले में जल्द पुलिस ब्रीफिंग कर स्टेडियम के सुरक्षा प्लान को सार्वजनिक किया जाएगा। जो अफगानिस्तान-बांग्लादेशके मैच के अलावा भविष्य में होने वाले मैचों पर भी लागू होगा।

रायपुर स्थित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में प्रस्तावित अफगानिस्तान और बांग्लादेश के मैचों को लेकर पुलिस ने भी सुरक्षा तैयारियां शुरू कर दी हैं। सोमवार को इस मामले में बीसीसीआइ के सदस्यों ने डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी से मुलाकात की।
इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था पर लंबी चर्चा की गई। बीसीसीआइ ने स्टेडियम की तारीफ करते हुए यहां भविष्य में वन-डे इंटरनेशनल मैच के आयोजन कराने की बात कही। इसमें कुछ देशों के लिए मैच पर चर्चा हुई। मगर सुरक्षा व्यवस्था को महत्वपूर्ण बताते हुए इसके के लिए खाका तैयार करने की बात कही।

इस पर पुलिस ने कहा कि स्टेडियम में भविष्य में जो भी क्रिकेट मैच होंगे, उसके लिए प्रवेश द्वार, निकासी, दर्शक दीर्घा, वेटिंग रूम, चेजिंग रूम, क्लब आदि की सुरक्षा को लेकर स्थायी प्लान बनाया जाएगा। आइजी लॉ एंड ऑर्डर दीपम सेठ ने कहा कि मोहाली क्रिकेट स्टेडियम का सुरक्षा प्लान बेहतर है। ऐसे में यहां भी इस प्लान का अध्ययन कर सुरक्षा व्यवस्था बनाई जा रही है।

एडीजी इंटेलीजेंस और एसएसपी को जिम्मेदारी
रायपुर क्रिकेट स्टेडियम की सुरक्षा और दूसरी व्यवस्था की जिम्मेदारी एडीजी इंटेलीजेंस वी विनय कुमार और एसएसपी निवेदिता कुकरेती को सौंपी गई है। पुलिस मुख्यालय ने साफ कहा कि दोनों अफसर खिलाडिय़ों से लेकर मैच देखने आने-जाने वाले दर्शकों की सुरक्षा व्यवस्था देखेंगे।

Leave a Comment