Share
राज्यपाल सतपाल मलिक ने कहा कि गोलियों का जवाब गोलियों से दिया जाएगा।

राज्यपाल सतपाल मलिक ने कहा कि गोलियों का जवाब गोलियों से दिया जाएगा।

घाटी के दहशतगर्दों पर बोले सत्यपाल मलिक, सामने से फायरिंग होती है तो नहीं दे सकते गुलदस्ता
घाटी में दहशत गर्दों पर जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि अगर सामने से फायरिंग होती है तो आप पत्थरबाजों और आंतकियों को गुलदस्ते नहीं दे सकते।

श्रीनगर,जम्मू कश्मीर के दहशतगर्दों पर राज्यपाल सतपाल मलिक ने कहा कि गोलियों का जवाब गोलियों से दिया जाएगा। शुक्रवार की जुमे की नवाज के बाद घाटी में पथराव लगभग रूक गया है। हम युवाओं को मुख्यधारा में वापस लाना चाहते हैं। इसके लिए खास योजनाएं बनाई जा रही हैं।

इसके साथ ही मलिक ने कहा कि यह सच है कि अगर सामने से फायरिंग होती है तो आप दहशतगर्दों को गुलदस्ते नहीं दे सकते। सेना के जनरल साहब इन दहशतगर्दों को गोलियों से गोलियों का जवाब देंगे।

मलिक ने कहा कि हमें नेक इरादों के साथ काम करना चाहिए। जिस तरह से युवाओं को गुमराह किया जा रहा है कि वे स्वर्ग की ओर बढ़ेंगे। इन दहशतगर्दों के पास वास्तव में दो स्वर्ग हैं। एक स्वर्ग कश्मीर में और दूसरा स्वर्ग जो उन्हें बाद में मिलेगा, यदि वे एक अच्छे मुस्लिम बने रहेंगे।

मीरवाइज के बारे में बोलते हुए राज्यपाल ने कहा कि मुझे खुशी है कि मीरवाइज उमर फारूक ने ड्रग के खिलाफ बोला है, राज्य में ड्रग्स एक बड़ा खतरा है। ड्रग्स यहां के युवाओं में तेजी से फैल रहा है। जम्मू में स्थिति बेहद खराब है, पंजाब इसी ड्रग्स की वजह से खत्म हो रहा है।

इसके साथ ही राज्यपाल मलिक ने कहा कि अलगाववादी हुर्रियत नेता सरकार के साथ बातचीत के लिए तैयार हैं। पहले यही हुर्रियत नेता बातचीत करने को लेकर अपने दरवाजे बंद कर देते थे, लेकिन अब सरकार के साथ बातचीत के लिए तैयार हो गए हैं।

Leave a Comment