Share
देश में राष्ट्रीय खेल हॉकी की दयनीय स्थिति से बेहद चिंतित हॉकी कोच मीर रंजन नेगी

देश में राष्ट्रीय खेल हॉकी की दयनीय स्थिति से बेहद चिंतित हॉकी कोच मीर रंजन नेगी

देहरादून:  ‘चक दे इंडिया’ फिल्म से मशहूर हुए पूर्व हॉकी खिलाड़ी एवं महिला हॉकी कोच मीर रंजन नेगी देश में राष्ट्रीय खेल हॉकी की दयनीय स्थिति से बेहद चिंतित हैं। मीर रंजन नेगी ने कहा कि वो जल्द ही राष्ट्रीय स्तर की महिला हॉकी लीग का आयोजन करेंगे। वे महिला खिलाड़ियों को उच्च प्रशिक्षण देकर राष्ट्र को बेहतर खिलाड़ी सौंपेंगे।

एक कार्यक्रम में शामिल होने देहरादून आए मीर रंजन नेगी ने कहा कि देश में क्रिकेट जैसे ग्लैमर वाले खेलों को तवज्जो दिया जाता है, लेकिन हॉकी के भविष्य के बारे में कोई नहीं सोचता। उन्होंने हॉकी में प्रदेश की बुरी स्थिति पर कहा कि प्रदेश सरकार भी इस ओर उदासीन है।

मुख्यमंत्री कार्यकाल के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने उन्हें हॉकी को प्रोत्साहन देने के लिए दस लाख रुपये देने का आश्वासन दिया था, लेकिन आज तक एक रुपया नहीं मिला है। उन्हें सरकार हॉकी को प्रोत्साहन देने के लिए कुछ भी नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि वह शीघ्र ही महिला हॉकी लीग की स्थापना करेंगे। इसमें युवा महिला खिलाड़ियों को उच्च स्तर का प्रशिक्षण एवं सभी उच्च सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। यहां इंडोर हॉकी की भी सुविधा होगी।

उन्होंने खुद पर लगे देशद्रोह के आरोपों पर कहा कि उनके जीवन में कई बार मुश्किल समय आया। इस दौरान उन पर लोगों ने देशद्रोह के आरोप लगाए, लेकिन उनके प्रशंसकों के समर्थन ने उन्हें हमेशा ताकत दी। कहा कि उनके पुत्र के गुजरने के बाद वो टूट चुके थे। इसके बाद भी लोग उन पर आरोप लगाते रहे। मगर वो हर चुनौती को सकारात्मक रूप में लेते हैं।

मिले थे कई ऑफर

मीर रंजन नेगी ने राजनीति में आने की संभावनाओं पर कहा कि अभी उनका ऐसा कोई विचार नहीं है। हालांकि यह जरूर बताया कि उन्हें कई बड़ी राजनीतिक पार्टियों से ऑफर मिले थे। कहा कि अभी वो खेल को समय देना चाहते हैं। बाद में राजनीति में आने की सोंचेंगे।

Leave a Comment