Share
अवैध प्लॉटिंग करने वालों पर शिकंजा कसना शुरू, 120 बीघा से अधिक क्षेत्र पर हुई अवैध प्लॉटिंग को किया ध्वस्त

अवैध प्लॉटिंग करने वालों पर शिकंजा कसना शुरू, 120 बीघा से अधिक क्षेत्र पर हुई अवैध प्लॉटिंग को किया ध्वस्त

देहरादून। आखिरकार धोरण खास क्षेत्र में अवैध प्लॉटिंग करने वालों का शिकंजा कसना शुरू हो गया है। एमडीडीए की टीम ने कार्रवाई शुरू करते हुए 120 बीघा से अधिक क्षेत्र पर की गई अवैध प्लॉटिंग को ध्वस्त कर दिया।

धोरण खास क्षेत्र में अवैध प्लॉटिंग के मामले में प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी। प्रकाशित खबर में बताया गया था कि इस क्षेत्र में करीब 400 बीघा क्षेत्र पर बिना ले-आउट पास कराए खुलेआम प्लॉटिंग की जा रही है। खबर का संज्ञान लेकर एमडीडीए ने प्रॉपर्टी डीलरों के चालान भी काटे थे।

अब एमडीडीए उपाध्यक्ष डॉ. आशीष कुमार के निर्देश पर सचिव पीसी दुम्का ने आदेश जारी करते हुए एक बड़े हिस्से पर अवैध प्लॉटिंग को ध्वस्त दिया। इसमें पहले मामले में दो लोगों ने हेलीपैड से महज 250 मीटर की दूरी पर करीब 60 बीघा भूमि पर ऊंची चहारदीवारी बनाकर प्लॉटिंग कर दी थी। वहीं, दूसरे मामले में भी दो अन्य लोगों ने 60 से अधिक बीघा पर बिना ले-आउट पास कराए प्लॉटिंग की थी।

एमडीडीए उपाध्यक्ष डॉ. श्रीवास्तव ने बताया कि इससे लगे अन्य भूखंडों (अवैध प्लॉटिंग) पर भी जल्द कार्रवाई की जाएगी। प्लॉटिंग ध्वस्त करने वाली टीम में सहायक अभियंता आनंद राम, अवर अभियंता हेमंत रावत, संजीव अग्रवाल आदि शामिल रहे।

मसूरी रोड पर भवन सील 

मसूरी रोड पर क्यारकुली गांव में गज्जी बैंड के पास एक निर्माणाधीन भवन को सील कर दिया गया। संयुक्त सचिव शैलेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि अनाधिकृत रूप से बनाए जा रहे भवन को लेकर पूर्व में सीलिंग के आदेश किए गए थे। हालांकि तब इस पर मंडलायुक्त कोर्ट से स्टे मिल गया था। अब स्टे हट जाने के बाद भवन को सील कर दिया गया।

सहायक अभियंता एसएस रावत, अवर अभियंता टीएस पंवार, सुपरवाइजर संजीव, उदय सिंह व मनोज जोशी की टीम ने भवन पर सीलिंग की कार्रवाई पूरी की।

Leave a Comment