Share
ईरान के साथ संबंधों में आई तल्खी के बाद अमेरिका ने अपनी सेनाओं की बढ़ाई तैनाती

ईरान के साथ संबंधों में आई तल्खी के बाद अमेरिका ने अपनी सेनाओं की बढ़ाई तैनाती

वाशिंगट। अमेरिका, ईरान के संभावित खतरे से निपटने के लिए लगातार अपनी स्थिती को मजबूत करने में लगा है। ईरान के साथ संबंधों में आई तल्खी के बाद अमेरिका मध्य-पूर्व में अपनी सेनाओं की तैनाती बढ़ा रहा है। अमेरिका ने कहा है कि वह अतिरिक्त पैट्रियट मिसाइलों को मध्य पूर्व में तैनात करेगा। अधिकारियों के मुताबिक एक खुफिया रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया गया है कि ईरान और उसके समर्थक अमेरिकी सुरक्षाबलों पर हमले की योजना बना रहे हैं। रक्षा सचिव पैट्रिक शहनहान ने पैट्रियट मिसाइलों की तैनाती को मंजूरी दी है।

बता दें कि पैट्रियट एक वायु रक्षा मिसाइल प्रणालियां हैं, जिसे काम कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइलों, उन्नत विमानों और क्रूज मिसाइलों को नष्ट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

खुफिया रिपोर्ट में संभावना जताई गई है कि ईरान कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल और क्रूज मिसाइलों को फारस की खाड़ी में नावों पर तैनात कर रहा है। अमेरिकी सेना का मानना है कि क्रूज मिसाइलों को छोटी ईरानी नौकाओं से लॉन्च किया जा सकता है, जिन्हें धौंस के रूप में जाना जाता है।

बता दें कि ईरान के लिए एक चेतावनी के रूप में अमेरिका के ट्रम्प के प्रशासन द्वारा कैरियर अब्राहम लिंकन को मध्य पूर्व में तैनात किया है। शुक्रवार को अमेरिकी रक्षा विभाग के अधिकारी ने कहा कि ईरानी खतरे से निपटने के लिए हम पूरी तरह से गंभीर हैं। उन्होंने कहा कि पैट्रिओट मिसाइल की तैनाती अपनी रक्षा के लिए किया गया है।

Leave a Comment