Share

भारत का पाकिस्तान को जवाब

भारत का पाकिस्तान को जवाब, कहा- अनुच्‍छेद 370 में संशोधन हमारा आंतरिक मामला
नई दिल्‍ली, पाकिस्‍तान जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 के प्रावधान हटाने से बौखलाया गया है। इमरान की ओर से कई कड़े फैसले लिए गए हैं। हालांकि, भारत ने पाकिस्‍तान को कहा है कि धारा 370 में संशोधन भारत का आंतरिक मामला है। भारत ने पाकिस्तान के क़दमों पर खेद जताते हुए कहा कि पाकिस्तान से कहेंगे कि ऐसा न करे, जिससे बातचीत का सामान्य राजनयिक चैनल खत्‍म हो जाए।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि ये बड़ी हैरानी की बात नहीं है कि ऐसी विकासात्मक पहल जो जम्मू-कश्मीर में असहमति ला सकता है, उसे पाकिस्तान भी नकारात्मक रूप से लेगा और अपने सीमापार आतंक को सही ठहराने के लिए इसका इस्तेमाल करेगा। पाकिस्‍तान को ये समझना चाहिए कि अनुच्छेद 370 से संबंधित हालिया घटनाक्रम पूरी तरह से भारत का आंतरिक मामला है। भारत के संविधान के अनुसार, यह हमेशा एक संप्रभु मामला होगा। क्षेत्र की स्थिति को भड़काकर उस अधिकार क्षेत्र में हस्तक्षेप करने की उनकी कोशिश कभी सफल नहीं होगी।

मंत्रालय की ओर से कहा गया कि भारत, पाकिस्तान द्वारा घोषित कदमों के लिए खेद व्यक्त करता है। हम पाकिस्‍तान से आग्रह करते हैं कि अपने निर्णय की समीक्षा करें, ताकि राजनयिक संचार के लिए सामान्य चैनल संरक्षित रहें। बता दें कि अगर राजनयिक संबंध खत्‍म हो जाते हैं, दोनों देशों के बीच बातचीत का जरिया बाधित हो जाएगा।

गौरतलब है कि भारत द्वारा अनुच्छेद-370 को रद्द किए जाने के फैसले से पाकिस्तान तिलमिला उठा है। राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक के बाद पाकिस्तान ने फैसला लिया है कि वह भारत के साथ अपने कूटनीतिक संबंधों में कमी करेगा । इसके अलावा पाकिस्तान ने भारत के साथ सभी द्विपक्षीय व्यापारिक रिश्तों को भी तोड़ दिया है। पाकिस्तान की तरफ से कहा गया है कि वो कश्मीर मामले को यूएन में ले जाएगा। भारत से व्यापारिक रिश्ते खत्म कर, राजनयिक संबंधों को बिगाड़कर पाकिस्तान ये दिखाने की कोशिश कर रहा है कि वो भारत के इस फैसले के कितने खिलाफ है। इतना ही नहीं पाकिस्तान ने भारतीय विमानों के लिए अपनी हवाई सीमा(एयरस्पेस) भी बंद कर दी है।

Leave a Comment