Share
इस क्रिकेटर को रेप करने के आरोप में मिली 18 साल की सजा

इस क्रिकेटर को रेप करने के आरोप में मिली 18 साल की सजा

नई दिल्ली । दक्षिण अफ्रीका के एक गेंदबाज ने क्रिकेट को कलंकित करने का काम किया है। गुरुवार (14 सितंबर) को दक्षिण अफ्रीका के पूर्व गेंदबाज डायन तलजार्ड को एक महिला के साथ कई बार रेप करने के आरोप में 18 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई गई है। तलजार्ड को महिला का 19 बार बलात्कार करने का दोषी ठहराया गया है। दो बार उस पर महिला के साथ गंभीर यौन उत्पीड़न करने का आरोप भी साबित हुआ है।

पीड़ित महिला ने अपनी पहचान छुपाई हुई है। महिला ने न्यायिक अधिकारियों के सामने बयान दिया है कि उसके साथ आरोपी डायन ने साल 2002 से लेकर 2012 तक 10 सालों में 150 बार रेप किया। इस दौरान उसे कई धमकियां भी दी गईं।

पीड़ित महिला ने बताया कि वो कई बार आत्महत्या करने का मन भी बना चुकी थी। साल 2015 में उसे किसी तरह मौका मिल गया और उसने पुलिस को फोन कर दिया। घरेलू क्रिकेट में 25 फर्स्ट क्लास मैच खेल चुके डायन ने कहा है कि उन्हें झूठ बोलकर फंसाया गया है।

न्यायाधीश मौरिस ग्रीन ने इस मामले की सुनवाई के दौरान डायन से कहा, ‘आपने पीड़ित महिला के साथ कई बार हिंसा की और इसके बाद आप रेप करते थे। आप उसे अपनी बातों से बरगलाते थे और उसे गंदे मैसेज भेजते थे। वो आपसे डरती थी। वो काफी कमजोर महसूस करती थी। उसकी कई सारी समस्याएं थीं।’

तीन बच्चों के पिता तलजार्ड ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को नकार दिया है। 47 वर्षीय डायन समर्थक और उनकी वर्तमान में मौजूदा प्रेमिका जैकलिन कॉसेलो के नेतृत्व में धन जुटाने के ऑनलाइन अभियान चलाएंगे। इसके लिए उन्होंने एक ऑनलाइन याचिका दायर करने के लिए मुहिम की शुरुआत की है। जज के सजा सुनाने के बाद उनकी गर्लफ्रेंड कोर्ट रूम में ही रोने लगी थीं।

पाकिस्तान के खिलाफ ली थी हैट्रिक

फरवरी 1998 में पूर्व लंदन के बफेलो पार्क में पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए एक मैच में तलजार्ड ने करियर का सर्वश्रेष्ठ 6/49 प्रदर्शन किया। इसमें विकटों की हैट्रिक भी शामिल थी। तलजार्ड ने यूसुफ योहाना, अजहर महमूद और सईद अनवर के विकेट चटकाकर हैट्रिक ली थी।

आपको बता दें कि कोर्ट ने डायन को महिला के साथ 10 साल में 150 बार रेप करने के आरोप में 18 साल की सजा सुनाई है। डायन ने 25 घरेलू मैचों में 30.93 की औसत से 60 विकेट अपने नाम किए थे। इस दौरान उन्होंने 2 बार 5 विकेट भी हासिल किए थे।

तलजार्ड ने 1993 से लेकर 2000 तक बॉर्डर टीम के लिए क्रिकेट खेला और इसके बाद वह लंदन चले गए। वहीं इनके क्रिकेट करियर का अंत हुआ। वहां वह क्लब स्तर पर क्रिकेट खेलते रहे और बॉल्टन के टंग क्रिकेट क्लब, बरी के अन्सवर्थ क्रिकेट क्लब और ओल्डहैम के रॉयटन क्रिकेट क्लब के लिए खेलते थे।

Leave a Comment