Share
खुशहाली और अमन की दुआ को उठे हजारों हाथ

खुशहाली और अमन की दुआ को उठे हजारों हाथ

रुड़की : रमजान माह के तीसरे जुमे पर शहर से लेकर देहात क्षेत्र तक अमन और खुशहाली की दुआ मांगी गई। मस्जिदों में रोजेदारों और नमाजियों की जबरदस्त भीड़ उमड़ी।

रुड़की शहर की जामा मस्जिद, सिविल लाइंस, सफर मैना मस्जिद, मरकजवाली बिलाल मस्जिद समेत अन्य मस्जिदों में हजारों रोजेदारों और नमाजी एकत्र हुए। सिविल लाइंस स्थित मस्जिद के समीप तो भीड़ के चलते थोड़ी देर के लिए यातायात बंद करना पड़ा। जामा मस्जिद में नमाज से पूर्व मौलाना अतहर उल हक ने कहा कि रमजान माह में चारों ओर से रहमतों की बारिश होती है। इस माह में तरावीह पढ़ना, जकात देना, गरीबों की मदद करना बहुत ही पुण्य का काम है। प्रत्येक व्यक्ति को चाहिये कि अपनी नेक कमाई का कुछ हिस्सा गरीब और जरूरतमंद लोगों पर खर्च करना चाहिये। इस मौके पर कारी मोहम्मद हारून और मौलाना अरशद कासमी ने कहा कि रमजान माह का तीसरा अशरा शुरु हो चुका है। इसमें रोजेदारों को अधिक से अधिक इबादत करनी चाहिए। इस मौके पर जाकिर हुसैन, मुफ्ती मोहम्मद सलीम, कारी मजाहिर हुसैन, मौलाना मुहम्मद युसूफ, कारी सरफराज अहमद आदि मौजूद रहे।

Leave a Comment