Share
प्रेमी युगल ने खाया जहर, उपचार के दौरान दोनों ने तोडा दम

प्रेमी युगल ने खाया जहर, उपचार के दौरान दोनों ने तोडा दम

देहरादून। कैनाल रोड पर बुधवार दोपहर को प्रेमी युगल ने जहर खा लिया। दोनों वैली एनक्लेव के सामने सड़क पर तड़पते मिले। स्थानीय लोग लड़की को पहचान गए और उसके मामा को फोन पर जानकारी दी। लड़की के मामा दोनों को लेकर दून मेडिकल कॉलेज पहुंचे, जहां उपचार के दौरान ही दोनों ने दम तोड़ दिया। लड़का शेरपुर, बिहारीगढ़, सहारनपुर का रहने वाला है। लड़की मूलरूप से बिजनौर की है, लेकिन बचपन से ही वह कैनाल रोड पर अपनी नानी के यहां रहती थी। पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं।

कैनाल रोड पर बुधवार दोपहर ढाई बजे के करीब राहगीरों ने वैली एनक्लेव के सामने एक लड़का और एक लड़की सड़क पर तड़पते देखा। दोनों के मुंह से झाग निकल रहे थे। यह देख वहां भीड़ जमा हो गई। भीड़ में से कुछ लोगों ने लड़की की पहचान सोनम (17) पुत्री देवेंद्र सिंह निवासी बॉडीगार्ड, कैनाल रोड के रूप में की और उसके मामा शुभम को फोन कर बताया कि उसकी भांजी गंभीर हालत में सड़क पर पड़ी है। शुभम आसपास ही था।

वह भागकर मौके पर आया तो वह लड़के को भी पहचान गया। लड़के की पहचान रिंकू शर्मा (18) पुत्र मनोज शर्मा निवासी शेरपुर बिहारीगढ़ सहारनपुर के रूप में हुई। शुभम ने रिंकू से पूछा कि दोनों ने क्या किया है, तो रिंकू सिर्फ इतना ही बोल पाया कि दोनों ने सल्फास खा लिया है। इसके बाद वह अचेत हो गया। शुभम आसपास के लोगों की मदद से दोनों को लेकर दून मेडिकल कॉलेज पहुंचा। यहां सवा चार बजे के करीब दोनों की मौत हो गई।

एसओ राजपुर अरविंद सिंह ने बताया कि लड़के के घर वालों को सूचना दे दी गई है। अब तक की जांच में पता चला कि सोनम और रिंकू का एक साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन दोनों की जाति अलग होने की वजह से परिजन राजी नहीं हो रहे थे। माना जा रहा है कि इसी के चलते दोनों ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली।

रिश्तेदारी की शादी में मिले थे सोनम-रिंकू 

सोनम की नानी बबीता ने बताया कि शेरपुर में उनकी रिश्तेदारी है। सोनम पिछले साल फरवरी में वहां एक शादी में शामिल होने गई थी। वहां पर सोनम की मुलाकात रिंकू से हुई। इसके बाद दोनों में बातचीत होने लगी और फिर वे एक-दूसरे से प्रेम करने लगे

नानी के घर पली-बड़ी सोनम 

मामा शुभम ने बताया कि उसकी बहन की शादी बिजनौर में हुई थी, लेकिन शादी के कुछ साल बाद ही देवेंद्र ने उसे तलाक दे दिया। इसके बाद उसकी बहन कैनाल रोड पर उनके साथ ही रहने लगी। सोनम का जन्म भी यहीं पर हुआ था। बचपन से ही वह यहीं पर रह रही थी। सोनम इस साल प्राइवेट से इंटरमीडिएट की परीक्षा देने वाली थी।

लड़के के घर से आया था रिश्ता 

सोनम के मामा शुभम ने बताया कि चार-पांच दिन पहले रिंकू के फोन से किसी महिला का उसके पास फोन आया। महिला ने खुद को रिंकू की मां बताया और कहा कि वह सोनम और रिंकू के रिश्ते की बात करना चाहती है। शुभम ने कहा कि फोन पर ही उसने कहा कि दोनों का रिश्ता कैसे हो सकता है। लड़की ठाकुर है और आप लोग ब्राह्मण। शुभम ने बताया कि इतना कह कर उसने फोन काट दिया।

साथ जी नहीं सकते, मर तो सकते हैं 

बुधवार को सोनम घर में अकेली थी। उसकी नानी और मां काम पर गए थे। दोपहर में उसने सबके लिए खाना भी बनाया। इसके बाद वह डेढ़ बजे के करीब घर से निकल गई। आशंका है कि रिंकू बुधवार को शेरपुर से पूरी तैयारी कर आया था। माना यह भी जा रहा है कि दोनों एक दूसरे से बेइंतहा प्यार करते थे और जब घरवालों ने रिश्ता करने से इन्कार कर दिया तो दोनों ने मौत को गले लगाने का फैसला कर लिया।

एक और प्रेम कहानी का दु:खद अंत

राजधानी में कृष्णा और कशिश की प्रेम कहानी का अंजाम मौत होने के दस दिन के ही भीतर एक और प्रेम कहानी का दु:खद अंत हो गया। वहां कृष्णा का एकतरफा प्रेम और कशिश की जिंदगी में किसी और के दस्तक देने से बात बिगड़ी थी तो यहां दोनों की अलग-अलग जाति का होना कारण बना। बता दें कि कैनाल रोड पर बीते 18 दिसंबर को इन्फिनिटी एनक्लेव के एक फ्लैट में कृष्णा ने फांसी लगा ली थी, जबकि कशिश उसी कमरे में बेड पर मरी पड़ी मिली थी। दोनों एक साल से प्रेम संबंध में थे।

Leave a Comment