Share
बंद घर से लाखों के जेवर और नकदी चोरी

बंद घर से लाखों के जेवर और नकदी चोरी

देहरादून: पुलिस को एक बार फिर चुनौती देते हुए चोरों ने पटेलनगर कोतवाली के पास स्थित देवर्षि एनक्लेव के बंद घर से लाखों के जेवर और नकदी पर हाथ साफ कर दिया। भवन स्वामी परिवार के साथ रिश्तेदारी में गए थे। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी है।

योगेंद्र पाल सिंह रेसकोर्स स्थित गुरु तेग बहादुर अस्पताल के शल्य चिकित्सा विभाग में कंपाउंडर हैं और पटेलनगर के देवर्षि एनक्लेव में रहते हैं। गत दोपहर वह परिवार के साथ बुग्गावाला (हरिद्वार) स्थित अपनी ससुराल चले गए। रात जब लौटे तो देखा मुख्य द्वार का ताला टूटा हुआ है। भीतर कमरों में सामान बिखरा हुआ था। आलमारी का लॉकर टूटा पड़ा था। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने फोरेंसिक एक्सपर्ट की मदद से दरवाजे के लॉक और आलमारी पर से फिंगर प्रिंट उठाए। भवन स्वामी ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि घर से लगभग सात तोला सोने के आभूषण और दस हजार रुपये गायब हैं।

इंस्पेक्टर सूर्य भूषण नेगी ने बताया कि छानबीन में पता चला कि कॉलोनी के बैक साइड में सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है, मगर कई दिनों से खराब है। ऐसे में यह पता नहीं चला कि चोरी किस समय हुई और इसमें कितने लोग शामिल थे। उन्होंने बताया कि संदिग्धों से पूछताछ जारी है, जल्द चोरी का खुलासा कर दिया जाएगा।

रेकी कर वारदात को दिया अंजाम

महज आठ घंटे के लिए खाली हुए घर में चोरी की वारदात से घर की रेकी किए जाने की आशंका बढ़ गई है। पुलिस का मानना है कि इसमें आसपास के असामाजिक तत्वों का हाथ है, जिसे मालूम था कि इस समय कंपाउंडर के घर में कोई नहीं है।

आसपास के कैमरों की खंगाली फुटेज

कोतवाली के पड़ोस में हुई चोरी से पटेलनगर कोतवाली में भी हड़कंप मच गया। चोरों का सुराग लगाने के लिए पुलिस बुधवार को पूरे दिन दौड़भाग करती रही। देवर्षि एनक्लेव के पास मेन रोड पर दुकानों पर लगे कैमरों की भी फुटेज पुलिस ने निकलवाई है।

Leave a Comment