Share
मेरठ के नारी निकेतन में मिली पुरोला कस्बे से लापता छात्रा, दुष्कर्म की हुई पुष्टि

मेरठ के नारी निकेतन में मिली पुरोला कस्बे से लापता छात्रा, दुष्कर्म की हुई पुष्टि

उत्तरकाशी। तीन जनवरी से पुरोला कस्बे से लापता छात्रा पुलिस को मेरठ के नारी निकेतन से मिल गई। आठवीं कक्षा में पढ़ने वाली किशोरी से शामली (उत्तर प्रदेश) में एक युवक ने तीन दिन तक दुष्कर्म किया और बाद में उसे कैराना कस्बे में छोड़ दिया। मेडिकल परीक्षण में दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। यहां से उत्तर प्रदेश पुलिस ने उसे नारी निकेतन भेज दिया। मामले में पुलिस ने पुरोला क्षेत्र की एक महिला और शामिली के एक युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुरोला के थाना प्रभारी रविप्रसाद कवि ने बताया कि तीन जनवरी को किशोरी ने घर में बताया कि स्कूल की छुट्टी के बाद वह अपने चाचा के घर जाएगी। इसके बाद अगले दिन वह घर नहीं लौटी तो परिजनों ने तलाश शुरू की। जब कुछ पता नहीं चला तो परिजनों ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई।

परिजनों ने आरोप लगाया कि किशोरी का अपने गांव में ही पड़ोस में रहने वाली एक महिला राजकुमारी के घर काफी आना जाना था। उन्होंने अंदेशा जताया कि राजकुमारी उसे बहला फुसला कर कहीं ले गई है।

थाना प्रभारी के अनुसार पुलिस ने किशोरी का फोन सर्वलांस पर लगाया। पुलिस को सूचना मिली की किशोरी मेरठ के नारी निकेतन में है। पुलिस किशोरी को पुरोला ले आई।

पूछताछ में किशोरी ने बताया कि तीन जनवरी को राजकुमारी बहला फुसलाकर उसे सहारनपुर ले गई। यहां राजकुमारी ने किशोरी को एक युवक सरबर पुत्र खुर्शीद को सौंपा और खुद गायब हो गई। सहारनपुर से युवक उसे खुरगान गांव में अपने घर ले गया और उससे दुष्कर्म किया।

युवक ने उसे तीन दिन यहीं रखा। इस बीच राजकुमारी ने युवक को फोन कर बताया कि पुरोला पुलिस उनकी तलाश कर रही है तो युवक ने किशोरी को कैराना में छोड़ दिया। थाना प्रभारी ने बताया कि संदिग्ध परिस्थितियों में घूमते देख उत्तर प्रदेश पुलिस ने उसे पकड़ लिया और नारी निकेतन भेज दिया।

थाना प्रभारी ने बताया कि मेडिकल रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि हो गई है। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। उन्होंने कहा कि जल्द ही राजकुमारी और सरबर को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Comment