Share
मुंबई में बारिश का कहर, स्‍कूल कॉलेज बंद

मुंबई में बारिश का कहर, स्‍कूल कॉलेज बंद

मुंबई । भारी बारिश ने एक बार फिर दौड़ती-भागती मुंबई को थमने के लिए मजबूर कर दिया है। भारी बारिश के बाद मंगलवार को मुंबई ठहर-सी गई है। कई इलाकों में भारी जलभराव हो रहा है। मौसम विभाग के अनुसार, आज भी मुंबई में भारी बारिश का अनुमान है। एहतियात के तौर पर आज मुंबई के सभी स्‍कूल कॉलेज बंद रहेंगे। वहीं मुंबई की लाइफलाइन लोकल सेवा 10 मिनट देरी से चल रही है। मुंबई में अगले 48 घंटों में भारी बारिश होने की संभावना जताई जा रही है।

मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी के बीच डब्‍बावालों का भी काम प्रभावित हुआ है। मुंबई डब्‍बावाला संगठन के प्रवक्‍ता सुभाष ने बताया कि वे आज काम नहीं करेंगे। इधर मुंबई एयरपोर्ट का एक रनवे अभी तक बंद रखा गया है, जिसकी वजह से 56 फ्लाइट्स को दूसरे एयरपोर्ट पर उतरना पड़ा। सूचना मिल रही है कि मुंबई एयरपोर्ट के दूसरे रनवे पर एक विमान भारी बारिश के कारण फिसल गया। स्‍पाइस जेट का ये विमान वाराणसी से मुंबई आया था। हालांकि किसी यात्री को चोट नहीं आई। वहीं लोकल ट्रेन सेवा भी बारिश के कारण प्रभावित हुई है। वेस्‍टर्न रेलवे ने पांच ट्रेन रद की हैं। वहीं सेंट्रल रेलवे ने 6 ट्रेन रद और 2 का रूट बदला है। इधर बस सेवा पर भी काफी असर पड़ा है। बसें कई जगह पानी में फंस गई हैं। मुंबई की बारिश ने बस, ट्रेन और हवाई यात्रा को बुरी तरह प्रभावित किया है, लोग घर से बाहर निकलने से पहले 10 बार सोच रहे हैं।

लगातार हो रही भारी बारिश के कारण मुंबई एयरपोर्ट को बुधवार सुबह पांच तक के लिए बंद करना पड़ा। पिछले महीने की बारिश से सबक लेते हुए सरकार ने बुधवार को स्कूलों और कॉलेजों को बंद रखने का फैसला लिया है। सरकार ने यह आदेश बुधवार को भारी बारिश होने की चेतावनी के मद्देनजर दिया है। बीएमसी ने कई इलाकों में लोगों को सचेत कर दिया है।

मुंबई और उसके उपनगरीय इलाकों में मंगलवार दोपहर भारी बारिश हुई। आंधी पानी के कारण यातायात और ट्रेनों की आवाजाही पर बुरा प्रभाव पड़ा। दृश्यता घटकर 550 मीटर से कम रह गई। मुंबई हवाई अड्डे पर करीब आधे घंटे के लिए सेवाएं रोक दी गई और कुछ विमानों को दूसरे हवाई अड्डों की तरफ भेज दिया गया। हवाई अड्डा सूत्रों के मुताबिक, करीब 20 विमान प्रभावित हुए हैं। सात को हैदराबाद, वडोदरा और अहमदाबाद की तरफ भेजा गया।

देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई के बोरिवली, कांदिवली, अंधेरी, भांडुप और दक्षिणी मुंबई में देर रात तक तेज बारिश हो रही थी। इससे पहले महानगर में 29 अगस्त को 300 मिमी से ज्यादा बारिश दर्ज की गई थी। परिवहन सेवा बुरी तरह प्रभावित हो गई थी और जनजीवन ठहर गया था।

मौसम विभाग ने रविवार को मुंबई और तटीय कोंकण इलाके में अगले तीन दिनों तक भारी बारिश की आशंका जताई थी। बीएमसी के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के एक अधिकारी ने कहा कि अब तब शहर के किसी हिस्से से अप्रिय घटना की खबर नहीं है। अधिकारी ने बताया, ‘शाम पांच बजे तक दक्षिण मुंबई में 28.71 मिमी बारिश दर्ज की गई। पूर्वी और पश्चिमी उपनगरीय इलाकों में क्रमश: 28.93 मिमी और 25.11 मिमी बारिश हुई है।’

Leave a Comment