Share
नई दिल्ली में पहली बार प्रदेश की ब्रांडिंग की तैयारी

नई दिल्ली में पहली बार प्रदेश की ब्रांडिंग की तैयारी

लखनऊ । प्रदेश में योगी सरकार बनने के बाद देश की राजधानी नई दिल्ली में पहली बार प्रदेश की ब्रांडिंग की तैयारी है।
मुख्य सचिव राजीव कुमार 16 सितंबर को पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स की ओर से आयोजित ‘चीफ सेक्रेटरी समिट’ में बदलते प्रदेश और सर्वश्रेष्ठ निवेश गंतव्य के तौर पर यूपी को पेश करेंगे।

केंद्र सरकार के कैबिनेट सचिव पीके सिन्हा और मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रह्मण्यम की मौजूदगी में होने वाले इस समिट में अमेरिका, जर्मनी, बेल्जियम, जिम्बाब्वे, स्वीडन, नीदरलैंड, आस्ट्रेलिया सहित 22 देशों के राजदूत, उच्चायुक्त या वाणिज्य दूतावास के प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं।

इसके अलावा यूपी सहित 12 राज्यों के मुख्य सचिव हिस्सा लेंगे। इसमें अमेरिकन चैंबर आफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज, इंडो कनाडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, कोरियन चैंबर ऑफ इंडस्ट्री एंड कॉमर्स इन इंडिया के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे।

देश के नामी कंपनियों के प्रतिनिधि भी राज्यों में निवेश अवसरों की जानकारी पाने के लिए मौजूद रहेंगे।

शासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुख्य सचिव राजीव कुमार इस समिट में निवेशकों को बताएंगे कि यूपी तेजी से बदल रहा है। एक ओर कानून-व्यवस्था में तेजी से सुधार हो रहा है, दूसरी ओर प्रदेश के हर क्षेत्र को 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने की कोशिश हो रही है।

जिला मुख्यालयों को 24 घंटे बिजली देने की जानकारी भी दी जाएगी। वह यह भी बताएंगे कि प्रदेश में इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर का तेजी से विकास हो रहा है। सड़कों का जाल बिछ रहा है।

निवेशक इन्हीं मुख्य बातों पर सबसे ज्यादा ध्यान देते हैं। प्रदेश की नई औद्योगिक नीति में निवेशकों के लिए बड़ी सहूलियतें देने की व्यवस्था की गई है।

इसके अलावा मेगा प्रोजेक्ट के मामले में केस-टू-केस सहूलियतों पर विचार की व्यवस्था है। वह यह भी बताएंगे कि राज्य के पिछड़े क्षेत्रों में निवेश के लिए नीति में अतिरिक्त प्रोत्साहन मिलेगा। प्रदेश में पहली बार नागरिक उड्डयन नीति बनाने की भी जानकारी देंगे।

अधिकारी ने बताया कि मुख्य सचिव के प्रजेंटेशन में तथ्यों व आंकड़ों के साथ सारी बातें होंगी। उम्मीद है कि इस समिट का प्रदेश को अच्छा फायदा मिलेगा और निवेशकों का प्रदेश की ओर रुझान तेजी से बढ़ेगा। प्रजेंटेशन के लिए औद्योगिक विकास विभाग काम कर रहा है।

Leave a Comment