Share
ओएनजीसी के इंजीनियर की खुदकुशी के मामले में नया मोड़, अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज

ओएनजीसी के इंजीनियर की खुदकुशी के मामले में नया मोड़, अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज

देहरादून। ओएनजीसी के इंजीनियर की खुदकुशी के मामले में नया मोड़ आ गया है। इंजीनियर विपिन कुमार यादव के परिजनों ने हत्या किए जाने की आशंका जताते हुए कोतवाली को तहरीर दी है। मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण फांसी पर लटकना बताया गया था, जिससे पुलिस इसे आत्महत्या मान रही थी।

दरअसल, बीती 29 नवंबर को तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) की महाराष्ट्र यूनिट में तैनात सहायक अधिशासी अभियंता विपिन कुमार यादव का शव कौलागढ़ स्थित एक होटल के कमरे में पंखे से लटका हुआ मिला था। मूल रूप से बकराबाग, जौनपुर उप्र निवासी विपिन 25 नवंबर को प्रशिक्षण के लिए दून आए थे। वे इसी होटल में ठहरे हुए थे। इंस्पेक्टर कैंट अरुण सैनी ने बताया कि घटना के दिन होटल कर्मचारी विपिन के कमरे में गए तो कमरा अंदर से बंद मिला था। कई बार आवाज लगाने पर भी अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली।

इस पर होटल के स्वामी एके सिंघल ने पुलिस को सूचना दी। ओएनजीसी अधिकारियों की मौजूदगी में पुलिस ने कमरा खुलवाया। भीतर विपिन यादव पंखे से चादर के सहारे लटके हुए मिले। इंस्पेक्टर ने बताया कि मौके पर कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था। मृतक के परिजनों ने अब हत्या किए जाने का शक जताया है।

Leave a Comment