Share
कश्‍मीर पर भारत के स्‍टैंड से सहमा पाकिस्‍तान

कश्‍मीर पर भारत के स्‍टैंड से सहमा पाकिस्‍तान

कश्‍मीर पर भारत के स्‍टैंड से सहमा पाकिस्‍तान, संसदीय समिति की अहम बैठक आज

पुलवामा आतंकी हमले के बाद एक बार फ‍िर भारत-पाकिस्‍तान के रिश्‍ते तल्‍ख हो गए हैं। सीमा पार से आतंकी घुसपैठ में नाकाम पाकिस्‍तान बौखलाया हुआ।  
इस्‍लामाबाद, भारत-पाक सीमा पर बढ़ते तनाव को देखते हुए पाकिस्‍तान संसदीय समिति की आज अहम बैठक‍ होने जा रही है। इसकी अध्‍यक्षता सैयद फखर इमाम करेंगे। इस‍ सिलसिले में पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने रविवार को राष्‍ट्रीय सुरक्षा समिति के साथ बैठक की थी। इस बैठक में पाकिस्‍तान ने एक बार फ‍िर दुनिया का ध्‍यान भटकाने के लिए कश्‍मीर मुद्दे का राग अलापा। बैठक में पाकिस्‍तान ने भारत पर यह आरोप लगाया कि नियंत्रण रेखा पर भारतीय सैनिक आम नागरिकों को निशाना बना रहे हैं। बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद पूरी दुनिया से अलग-थलग पड़ चुका और आतंकवादी घुसपैठ में नाकाम होने के बाद पाकिस्‍तान बौखलाया हुआ है।

इसके पूर्व इमरान खान के नेतृत्व में रविवार को राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (NSC) की एक बैठक बुलाई गई थी। इसमें राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की गई। सूचना और प्रसारण पर प्रधानमंत्री के विशेष सहायक डॉ. फिरदौस आशिक ने रविवार को सिलसिलेवार ट्वीट में यह घोषणा की थी। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान के राजनीतिक नेतृत्‍व को इकट्ठे होकर एकता और एकजुटता का संदेश देना है। पाकिस्‍तान ने भारतीय सेना पर आरोप लगाया कि भारत पीओके में नागरिकों के ऊपर क्‍लस्‍टर बमों का इस्‍तेमाल कर रहा है। हालांकि, भारत ने पाकिस्‍तान के आरोपों का खंडन किया है।

गौरतलब है कि भारतीय सेना ने शुक्रवार और शनिवार को केरन सेक्टर में पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (Border Action Team) द्वारा की जा रही घुसपैठ की बड़ी कोशिश को नाकाम कर दिया है। सुरक्षाबलों ने पिछले 36 घंटों के दौरान करीब सात पाकिस्तानी बैट कमांडो और आतंकियों को मार गिराया है। वहीं, पाकिस्तान ने एकबार फिर अपने ही सैनिकों को अपना मानने से इनकार कर दिया है।

उधर, आज इस मामले में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में कैबिनट की अहम बैठक जारी है।कश्मीर में आतंकी खतरे और सुरक्षा तैयारियों के साथ ही आगे की रणनीति पर विचार करने के लिए गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को उच्च स्तरीय बैठक की थी। इसके बाद जम्‍मू-कश्‍मीर में हलचल बढ़ गई है। संसद भवन स्थित अमित शाह के दफ्तर में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गौबा के साथ लगभग दो घंटे तक बैठक चली।

Leave a Comment