Share

पाकिस्तान से भी उठने लगे हैं धौनी पर सवाल

नई दिल्ली। टीम इंडिया के मध्यक्रम के मजबूत आधार स्तंभ महेंद्र सिंह धौनी इन दिनों आलोचकों के निशाने पर हैं। पहले खराब फॉर्म और अब धीमी बल्लेबाजी और मैच फिनिश न पाने की वजह से कई लोग उन्होंने क्रिकेट से रिटायरमेंट की सलाह दे रहे हैं। धौनी पर सवाल उठाने वालों में सिर्फ भारतीय ही नहीं, पाकिस्तानी भी हैं।

जी हां, पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रमीज राजा ने महेंद्र सिंह धौनी को टेस्ट मैच न खेलने के बावजूद ‘ए’ ग्रेड में रखने पर सवाल उठाया है। राजा ने कहा कि क्रिकेट बोर्ड्स को टेस्ट क्रिकेट का सम्मान करना चाहिए और इसके लिए जरूरी है कि ‘ए’ ग्रेड केवल टेस्ट क्रिकेटरों को ही दिया जाना चाहिए।

राजा ने कहा, ‘आपको टेस्ट मैच क्रिकेट की इज्जत करनी होगी और यह क्रिकेट बोर्ड खास तौर पर एशियन बोर्ड्स को ऐसा करना होगा।’ राजा ने कहा, ‘उदाहरण के तौर पर देखें तो धौनी टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं और बीसीसीआइ ने उन्हें इसके बावजूद ‘ए’ ग्रेड का अनुबंध दिया। शाहिद अफरीदी को टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बावजूद पीसीबी ने ‘ए’ ग्रेड का अनुबंध दिया।’

राजा ने आगे कहा खेल के लंबे प्रारूप को बचाने के लिए ‘ए’ ग्रेड अनुबंध केवल टेस्ट मैच खेलने वाले खिलाड़ियों को ही दिया जाना चाहिए। राजा ने कहा कि एशिया में क्रिकेट टीमों पर काफी दबाव है, लेकिन सही योजना बनाकर टेस्ट क्रिकेट चैंपियनशिप कराई जाए तो इससे फायदा हो सकता है। उन्होंने कहा अगर क्रिकेट बोर्ड टेस्ट क्रिकेट के लिए ऐसी योजनाएं नहीं बनाएंगे तो वे टी 20 लीग के मुकाबले पैसा हासिल करने में नाकाम रहेंगे।

आपको याद दिला दें कि इससे पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासक कमेटी (सीओए) के सदस्य रामचंद्र गुहा ने अपने इस्तीफे में धौनी के ग्रेड पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा था कि धौनी को टेस्ट मैचों से संन्यास लेने के बाद भी ‘ए’ ग्रेड दिया गया है। गुहा ने कमेटी प्रमुख विनोद राय को लिखे पत्र में कहा था कि भारतीय क्रिकेट में सुपरस्टार सिंड्रोम है, जो क्रिकेट को बरबाद कर रहा है।

 

Leave a Comment