पाकिस्‍तान को करारा जवाब देने में नहीं हिचकेंगे: आर्मी चीफ नरवाणे

दिल्‍ली कैंट स्‍थित आर्मी परेड ग्राउंड (Army Parade Ground) में आर्मी डे के मौके पर बुधवार को समारोह जारी है। इस अवसर पर आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवाणे के हाथों जवानों को सम्‍मानित किया गया। अपने संबोधन में आर्मी चीफ नरवाणे ने कहा, ‘जम्‍मू कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 (Article 370) को हटाना ऐतिहासिक फैसला है। इससे कश्‍मीर को भारत से जोड़ने में मदद मिली है।’ उन्‍होंने आगे कहा, ‘पाकिस्‍तान के साथ प्रॉक्‍सी वार (Proxy War) जारी है। पाकिस्‍तान को जवाब देने से पीछे नहीं हटेंगे और न ही कोई हिचक होगी। देश में शांति के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।’

आर्मी चीफ ने पाक को दी चेतावनी

आर्मी चीफ ने सेना दिवस पर अपने संबोधन में पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी है। उन्‍होंने कहा कि हमारे पास आतंकवाद व इसे बढ़ावा देने वालों के लिए हमारे पास बहुत विकल्प हैं साथ ही इसके खिलाफ हमारी जीरो टॉलरेंस की नीति है। उन्‍होंने सेना को आश्‍वासन दिया और कहा, ‘आपकी आवश्‍यताओं को सरकार पूरा करेगी। असम राइफल्‍स वे सेना के कारण ही पूर्वोत्तर राज्‍यों में सुधार है।’

पहली भारतीय महिला ‘परेड एडज्‍यूटेंट’

भारतीय सेना दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी सेना है। मौके पर आर्मी चीफ ने परेड का निरीक्षण किया। इस मौके पर परेड की कमान भारतीय सेना की कैप्‍टन व परेड एडज्‍यूटेंट के तौर पर पहली भारतीय महिला तान्‍या शेरगिल ने संभाली है। बता दें कि परेड के लिए जिम्‍मेदार ‘परेड एडजुटेंट’ होता है। उन्होंने बताया कि अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी, चेन्नई से मार्च 2017 में कमीशन प्राप्त करने वाली शेरगिल ने इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार में स्नातक किया है।

शहीदों को दी श्रद्धांजलि

इससे पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्‍टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat), आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवाणे (Army Chief General Mukund Narwane) , चीफ ऑफ द एयर स्‍टाफ एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया (RKS Bhadauria) और नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह (Navy Chief Admiral Karambir Singh) ने आर्मी डे (Army Day) के मौके पर नेशनल वॉर मेमोरियल (National War Memorial) पर श्रद्धांजलि अर्पित की।

पीएम मोदी ने किया ट्वीट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना दिवस पर शुभकामनाएं दी और ट्वीट कर सेना को प्रोत्‍साहित किया। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा, ‘हमारी सेना अपनी वीरता के लिए जानी जाती है। अपने मानवता के लिए भी इनका सम्‍मान होता है। जब भी लोगों को मदद की जरूरत होती है, हमारी सेना वहां पहुंच जाती है और हर संभव सहायता करती है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *