Share
तोता है या ‘खतरों का खिलाड़ी’, कुछ अलग है इसकी कहानी

तोता है या ‘खतरों का खिलाड़ी’, कुछ अलग है इसकी कहानी

OMG! तोता है या ‘खतरों का खिलाड़ी’, कुछ अलग है इसकी कहानी

ब्राजील के कैसकावेल शहर के चिड़ियाघर के एक तोते के साथ कुछ ऐसी घटनाएं हुईं, जिसे जानकर आपको लगेगा कि ये सब फिल्मी है। हालांकि उस तोते के साथ हुई घटनाएं वास्तविक हैं, जिसके बारे में प्रकाशित किया है। यह घटना अप्रैल की है, लेकिन यह तोता ‘खतरों के खिलाड़ी’ से कम नहीं है।

चिड़ियाघर के इस तोते का नाम फ्रेडी क्रुएगर है। इस तोते को एक सांप ने काटा, उसके कुछ दिन बाद इसे अगवा कर लिया गया। इससे पहले वह पुलिस मुठभेड़ में घायल भी हो गया था। इतने खतरे झेलने के बाद भी फ्रेडी जिंदा है और चिड़ियाघर के डॉक्टरों की देखरेख में स्वास्थ्य लाभ ले रहा है।

फ्रेडी को 16 अप्रैल को चिड़ियाघर से तीन हथियारबंद लुटेरों ने अगवा कर लिया था। हालांकि दो दिनों के बाद उसे चिड़ियाघर के आसपास देखा गया। उसके शरीर पर खून के कुछ निशान थे, जो उसके साथ हुई घटना को बयान कर रहे थे।

फ्रेडी को वापस चिड़ियाघर ले जाया गया। ऐतिहातन उसे दूसरे पक्षियों से अलग रखा गया है क्योंकि वह हिंसक हो सकता है। बताया जा रहा है कि अगवा किए जाने से एक सप्ताह पहले एक सांप ने उसके पंजे पर काट लिया था, जिससे घाव हो गया। गनीमत यह थी कि वह सांप जहरीला नहीं था।

लगभग चार साल पहले फ्रेडी को चिड़ियाघर लाया गया था। पुलिस से मुठभेड़ के दौरान ड्रग तस्कर फ्रेडी को घटनास्थल पर ही छोड़कर भाग गए थे। मुठभेड़ के दौरान उसके ऊपरी चोंच में चोट लग गई थी। उस दौरान उसने अपनी एक आंख भी गंवा दी थी।

फिलहाल वह ठीक है, लेकिन उसकी चोंच का कुछ हिस्सा टूटा हुआ है, जिसकी वजह से वह किसी बीज को छीलकर खा नहीं पा रहा है। फल और अन्य खाद्य पदार्थ वह सामान्य तौर पर खा लेता है। चिड़ियाघर के डॉक्टरों का कहना है कि इन घटनाओं के बाद से वह थोड़ा सा उग्र हो गया है। दुखद बात यह है कि फ्रेडी अभी मिला नहीं था, उस बीच चिड़ियाघर से एक और तोता चोरी हो गया।

Leave a Comment