Share
अतिक्रमण तोड़ने पर व्‍यापारियों ने एसडीएम से की नोकझोंक, न मानने पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

अतिक्रमण तोड़ने पर व्‍यापारियों ने एसडीएम से की नोकझोंक, न मानने पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

देहरादून: प्रेमनगर बाजार के अतिक्रमण पर शुक्रवार से ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू हो गई। 15 मिनट की कार्रवाई में प्रेमनगर का अतिक्रमण मलबे में तब्‍दील हो गया। इस दौरान निशान से ज्‍यादा हिस्‍सा तोड़ने पर व्‍यापारियों ने एसडीएम से नोकझोंक भी की। इसके बाद वे धरने पर बैठ गए। पुलिस ने पहले उन्‍हें समझाने का प्रयास किया, न मानने पर पुलिस को बल का प्रयोग करना पड़ा। लाठीचार्ज के बाद भीड़ को वहां से हटाया गया।

अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत टास्क फोर्स ने प्रेमनगर मुख्य बाजार से लेकर नंदा की चौकी तक 155 से ज्यादा बड़े अतिक्रमण चिह्नित किए हैं। अतिक्रमण की जद में पांच से आठ मीटर तक दुकानें और मकान आने के चलते व्यापारियों और लोगों ने इसका विरोध भी किया।

राजनीतिक मुद्दा बनने पर भाजपा के विधायक एकजुट होकर अतिक्रमण के विरोध में खड़े हो गए। इस बीच सरकार मलिन बस्तियों पर अध्यादेश तो लाई, लेकिन प्रेमनगर को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं की। जिलाधिकारी एसए मुरूगेशन ने बताया कि शुक्रवार को सुबह सात बजे से यहां अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई।

दो सौ से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात 

प्रेमनगर में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के लिए पर्याप्त पुलिस फोर्स तैनात की गई है। चार जोन टीमों में शामिल पीएसी और चार से ज्यादा थानों की पुलिस यहां तैनात की गई है। इसके अलावा ट्रैफिक डायवर्ट करने के लिए बल्लूपुर से लेकर नंदा की चौकी तक कदम-कदम पर फोर्स तैनात की गई है। एसएसपी ने यहां तैनात पुलिस फोर्स की ब्रीफिंग करते हुए सुरक्षा और शांति व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए।

Leave a Comment