Share
प्रधानमंत्री के राम मंदिर पर दिए बयान पर राजनीति गर्म, सुप्रीम कोर्ट के फैसले में देरी के लिए कांग्रेस को ठहराया जिम्मेदार

प्रधानमंत्री के राम मंदिर पर दिए बयान पर राजनीति गर्म, सुप्रीम कोर्ट के फैसले में देरी के लिए कांग्रेस को ठहराया जिम्मेदार

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में दिए इंटरव्‍यू में राम मंदिर पर जो बयान दिया, उसे लेकर राजनीति गर्म गई है। शिवसेना का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी को यह नहीं भूलना चाहिए कि उन्‍होंने इसी मुद्दे पर राजनीति कर सत्‍ता हासिल की है।

राम मंदिर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को लेकर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, ‘प्रधानमंत्री को हमें यह बताने की जरूरत नहीं कि मामला कोर्ट में है। अगर हम यही चाहते हैं, तो आंदोलन की आवश्यकता क्या थी? कारसेवकों का शहीद होना, मुंबई में बम विस्फोट, दंगे; यह सब राम मंदिर के नाम पर नरसंहार था, इसका जिम्मेदार कौन है? आपने इसी मुद्दे पर सरकार बनाई, यह मत भूलिए।’

राम मंदिर पर पीएम मोदी का बयान

संघ परिवार और खास कर सरसंघचालक मोहन भागवत की ओर राम मंदिर पर अध्यादेश की मांग को खारिज करते हुए प्रधानमंत्री ने साफ कर दिया कि सरकार का ऐसा कोई इरादा नहीं है। उन्होंने कहा कि इस मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में अंतिम चरण में है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले में देरी के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस से जुड़े वकील कोर्ट के भीतर अड़ंगा लगाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने देश में शांति, सुरक्षा और भाईचारे की दुहाई देते हुए कांग्रेस से अपने से जुड़े वकीलों से अड़ंगा लगाने से रोकने की अपील की।

Leave a Comment